google-site-verification: googlefcc831f3afff5489.html google-site-verification=XK9IDkjU7jjUURp5A425iStvbYoDk39UO0ryXDjSqWw google-site-verification: googlefcc831f3afff5489.html Lightning strikes: how dangerous is it safety measures All you need to know about the phenomenon ~ Blog on Computer, Blogging, Mobile Phones,Technology Network security tips banking Frauds, Malware,

Lightning strikes: how dangerous is it safety measures All you need to know about the phenomenon

Lightning strikes in north India: All you need to know about phenomenon


आकाशीय बिजली गिराने की घटनाएं वैसे तो म हैं परंतू इस वर्ष इन घटनाओं में बड़ा बदलाव देखा गया है। अब तक के बजली गिराने के औसत के बजाय इस वर्ष आकाशीय बिजली गिराने की घटनाएं 34 प्रति शत अधिक हुयी हैं। पिछले 24 घंटों में ही तीन राज्यों राजस्थान, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश में बिजली गिरने से 60 से अधिक लोगों की मौत हो गई है। 

 

 

Lightning strikes

 

तड़ित या बिजली गिरना, या आकाशीय बिजली गिरना क्या है? What is lightning strike?

 

यह एक प्राकृतिक क्रिया है। इसे कई नामों से पुकारा जाता है जिनमें बिजली गिरना, आकाशीय बिजली गिरना, तड़ित (Lightning) या "आकाशीय बिजली" जैसे प्रचलित शब्द हैं। शास्त्रों में इस क्रिया के लिए वज्रपात शब्द का भी उपयोग हुआ है। विज्ञान की भाषा में वायुमण्डल में विद्युत आवेश का डिस्चार्ज होना और उससे उत्पन्न कड़कड़ाहट (thunder) को तड़ित कहते हैं। संसार में प्रतिवर्ष लगभग 2 करोड़ 60 लाख तड़ित पैदा होते हैं ।

 

प्रसिद्ध चैनल नेशनल ज्योग्राफिक(National Geographic) बिजली को "तूफान बादलों और जमीन के बीच असंतुलन के कारण विद्युत निर्वहन"(“electrical discharge caused by imbalances between storm clouds and the ground.”) के रूप में परिभाषित करता है। यह "असंतुलन"(“imbalance” ) तूफानी बादलों और जमीन पर मौजूद वस्तुओं के बीच निर्मित होता है। तूफान के बादलों की निचली सतह(lower reaches) "नकारात्मक"(Negative) चार्ज होती है जबकि जमीन पर मौजूद  वस्तुएं "सकारात्मक"(Positive) चार्ज होती हैं। इस असंतुलन(Imbalance) के कारण दो विपरीत आवेशों(opposite charges) के बीच विद्युत धारा प्रवाहित हो जाती है, इस प्रक्रिया को तड़ित कहते हैं।

 

You may like to read on -  How toenhance the browsing Speed of your Android smart phone or Tablet


बिजली गिरना या बिजली का बोल्ट(lightning strike or lightning bolt) वातावरण यानि अट्मोस्फियर और जमीन के बीच एक विद्युत निर्वहन(Electric discharge) है। यह अधिकांशतया तूफ़ानी बादलों यानि क्यूम्यलोनिम्बस क्लाउड(Cumulonimbus cloud) में उत्पन्न होते हैं और जमीन पर समाप्त होते हैं, जिसे क्लाउड-टू-ग्राउंड (सीजी) लाइटनिंग(cloud-to-ground (CG) lightning) कहा जाता है।

 

एक दूसरे प्रकार की स्ट्राइक, ग्राउंड-टू-क्लाउड (जीसी) लाइटनिंग(Ground-to-cloud (GC) lightning), भी होती है तथा बहुत ही कम पायी जाती है। यह ऊपर की ओर फैलने वाली बिजली है जो जमीन पर मौजूद ऊँचे ऑब्जेक्ट से शुरू होकर बादलों तक पहुंचती है।

 

दुनिया भर में बिजली की सभी घटनाओं में से लगभग 69% वायुमंडल और पृथ्वी से जुड़ी वस्तुओं के बीच होती  हैं। अधिकांश इंट्रा-क्लाउड (IC) लाइटनिंग और क्लाउड-टू-क्लाउड (CC) होती हैं, जहां डिस्चार्ज केवल वायुमंडल में बहुत ऊंचाई पर होता है।

 

साल में कम से कम एक बार औसत वाणिज्यिक विमानों पर भी बिजली गिरती है, लेकिन आधुनिक इंजीनियरिंग और विकसित डिजाइन के परिणाम स्वरुप यह शायद ही कभी समस्या रही है। बादलों के मध्य से विमानों की आवाजाही बिजली गिरने का कारण भी बन सकती है।

 

You may like to read on -  Blogger SEO-Nofollow Links, Dofollow Links and their impact on page ranking 

 

एक बिजली गिराने की घटना एक "फ्लैश"("flash") है, जो एक जटिल, बहु-चरणीय प्रक्रिया(Complex, multi-stage process) है, जिसके कुछ हिस्से अभी तक पूरी तरह से समझ में नहीं आते हैं। अधिकांश "क्लाउड टू ग्राउंड  फ्लैश"("Cloud to Ground G flashes") केवल एक भौतिक स्थान से टकराते हैं, जिसे "समाप्ति"("Termination") कहा जाता है।

 

प्राइमरी कंडक्टिंग चैनल(The primary conducting channel), चमकदार आवर्त प्रकाश जिसे देखा जा सकता है और जिसे "स्ट्राइक" कहा जाता है, केवल एक इंच व्यास का होता है, लेकिन इसकी अत्यधिक चमक के कारण, यह अक्सर मानव आंखों और तस्वीरों में बहुत बड़ा दिखता है। लाइटनिंग डिस्चार्ज आमतौर पर मीलों लंबा होता है, लेकिन कुछ प्रकार के क्षैतिज डिस्चार्ज की लंबाई दसियों मील से अधिक हो सकती है। संपूर्ण फ्लैश एक सेकंड के केवल एक अंश तक रहता है।

 

You may like to read on -  Windows-10,Advance System setting to Optimize Performance, Virtual Memory, Speed Up


 

बिजली गिरना खतरनाक क्यों है? Why is lightning strike is dangerous?

 

प्रसिद्ध चैनल नेशनल ज्योग्राफिक(National Geographic) की एक रिपोर्ट बताती है कि हर साल बिजली गिरना घटनाओं के कारण लगभग 2000 लोग अपनी जान गंवाते हैं। बिजली गिरने से मृत्यु तब होती है जब सबसे कम बिजली का बोल्ट जमीन पर किसी धनावेशित वस्तु(Positively charged object) के 150 फीट (46 मीटर) की परिधि के के भीतर आता है। यह संपर्क सकारात्मक बिजली की वृद्धि(Surge of positive electricity) की ओर जाता है, जिसे "स्ट्रीमर"(“Streamer,”) कहा जाता है, जो एक इमारत, एक पेड़ और यहां तक कि एक व्यक्ति को भी प्रभावित कर सकता है।

 

जो लोग बिजली गिरने से बच जाते हैं वे विभिन्न स्थायी लक्षणों से पीड़ित हो सकते हैं। इनमें स्मृति हानि, कमजोरी, चक्कर आना, सुन्नता(Memory loss, weakness, dizziness, numbness) आदि शामिल हैं। इनसे कार्डियक अरेस्ट और गंभीर जलन(Cardiac arrest and severe burns) भी हो सकती है।

 

बिजली के झटके कई अलग-अलग तरीकों से इंसानों को घायल कर सकते हैं:जो संक्षेप में इस प्रकार हैं -

1. प्रत्यक्ष Direct

प्रत्यक्ष स्ट्राइक(Direct strike)  -

इसमें व्यक्ति एक फ्लैश चैनल का हिस्सा होता है। अत्यधिक मात्रा में ऊर्जा शरीर से बहुत जल्दी गुजरती है, जिसके परिणामस्वरूप आंतरिक जलन, अंग क्षति, मांस और हड्डी का विस्फोट और तंत्रिका तंत्र को नुकसान(Internal burns, organ damage, explosions of flesh and bone, and nervous system damage) होता है। फ्लैश की गहनता  और चिकित्सा सेवाओं तक पहुंच में लगने वाले समय के आधार पर, यह तत्काल घातक(Instantaneously fatal) हो सकता है या स्थायी घाव और हानि का कारण बन सकता है।

 

You may like to read on -  How to permanentlydelete a wordpress blog in easy steps


संपर्क चोट Contact injury –

एक वस्तु (आमतौर पर एक कंडक्टर) जिसे लाइटनिंग स्ट्राइक के समय किसी व्यक्ति ने छु रखा है तो वह व्यक्ति स्ट्राइक से लाइटनिंग स्ट्राइक विद्युतीकृत हो जाता है।

 

साइड स्पलैश Side splash –

प्राथमिक फ्लैश चैनल(Flash channel, electrify) से चारों तरफ उछलने वाली विद्युत् धाराओं की शाखाएं, भी व्यक्ति को विद्युतीकृत कर सकती हैं।

 

ब्लास्ट इंजरी Blast injuries –

यदि बहुत करीब है तो दूर फेंका जा सकता है और शॉक वेव से कुंद बल आघात(Blunt force trauma) और भयंकर गड़गड़ाहट से संभावित श्रवण क्षति का सामना करना पड़ रहा है।

 

ब्लास्ट इंजरी Blast injuries –

यदि बहुत करीब है तो दूर फेंका जा सकता है और शॉक वेव से कुंद बल आघात(Blunt force trauma) और भयंकर गड़गड़ाहट से संभावित श्रवण क्षति का सामना करना पड़ रहा है।

 

YOU MAY LIKE TO READ ON -  New Trojan Crackonosh Targets Gamers converts PC into Cryptomining machine 

 

2. अप्रत्यक्ष Indirect

ग्राउंड करंट या "स्टेप पोटेंशियल" Ground current or "step potential" –

 

पृथ्वी की सतह डिस्चार्ज के दौरान फ्लैश चैनल की ओर दौड़ती है। चूंकि जमीन में उच्च प्रतिबाधा( impedance) है, और करंट हमेशा एक बेहतर कंडक्टर "चुनता है" जो अक्सर एक व्यक्ति के पैर,से होते हुए शरीर से गुजरता हैं। निर्वहन की निकट-तात्कालिक दर(Near-instantaneous rate of discharge) दूरी पर एक पोटेंशियल डिफरेंस का कारण बनती है, जो कई हजार वोल्ट प्रति लाइनर फुट तक हो सकती है।

 

ईएमपी EMPs –

डिस्चार्ज प्रक्रिया एक इलेक्ट्रोमैग्नेटिक पल्स (ईएमपी) उत्पन्न करती है जो लोगों को लगे हुए कृत्रिम पेसमेकर को नुकसान पहुंचा सकती है तथा दिल के मरीजों नुकसान पहुंचा सकते हैं  या अन्यथा सामान्य जैविक प्रक्रियाओं को भी प्रभावित कर सकती है।

 

मतिभ्रम Hallucinations –

भीषण बिजली के तूफान(Severe lightning storm) की हालत में इसके के 200 मीटर के दायरे में स्थित लोगों में मतिभ्रम हो भी सकता है।

 

YOU MAY LIKE TO READ ON -  How does youtube count video views Explained in detail 

 

3. माध्यमिक या परिणामी Secondary or resultant

विस्फोट Explosions, आग Fires और दुर्घटनाएं Accidents

आस-पास एक आसन्न स्ट्राइक(Near Strike) के चेतावनी संकेतों में कर्कश ध्वनि, बालों या त्वचा में स्थैतिक बिजली की अनुभूति, ओजोन की तीखी गंध, या व्यक्तियों या वस्तुओं के आसपास एक नीली धुंध की उपस्थिति (सेंट एल्मो की आग) शामिल हो सकती है।

 

ऐसी चरम स्थितियों में फंस गए लोगों को - जो एक सुरक्षित, पूरी तरह से बंद जगह में भागने में सक्षम हों  - 'बिजली की स्थिति'('lightning position') ग्रहण करने की सलाह दी जाती है, जिसमें "बैठना या घुटनों और पैरों के साथ बैठना शामिल है ताकि जमीन से संपर्क करने वाला केवल एक बिंदु बचे  "("sitting or crouching with knees and feet close together to create only one point of contact with the ground") बैठने पर पैरों को जमीन से हटाकर, यदि खड़े होने की स्थिति की जरूरत है, तो पैरों को आपस में छू कर खड़ा होना होगा।

 

बिजली गिरने से बचाव के लिए क्या करें और क्या करें Dos and don’ts during a lightning strike to keep safe.

 

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने बिजली गिरने के दौरान क्या करें और क्या करें, इसकी सूची तैयार की है। यहां कुछ बुनियादी कार्य हैं और जिनका पालन  किया जाना चाहिए:

 

(1) यदि मौसम का पूर्वानुमान गरज के साथ(Thunderstorms) है, तो अपनी गतिविधि को स्थगित या विलंबित करें

 

(2) गड़गड़ाहट सुनाई देने पर(When you hear thunder) किसी सुरक्षित आश्रय के अंदर जाएँ। सुरक्षित आश्रयों में कंक्रीट के घर, कंक्रीट की इमारतें, या कठोर शीर्ष वाहन(Hard top vehicles) शामिल हैं जिनकी खिड़कियां लुढ़की हुई(Windows rolled up) हैं।

 

(3) 30/30  "बिजली सुरक्षा नियम"(“Lightning Safety Rule.”) का पालन करें। यह नियम कहता है कि अगर बिजली देखने के बाद गड़गड़ाहट सुनने से पहले 30 तक गिनती हो तो घर के अंदर भागना चाहिए। इसके अतिरिक्त, इसमें कहा गया है कि किसी को गड़गड़ाहट की एक फ्लैश सुननी चाहिए, और 30 मिनट तक कोई अन्य फ्लैश नहीं सुनाई देने पर ही बाहर जाना चाहिए।

 

(4) ऊंचे क्षेत्रों जैसे पहाड़ियों, चट्टानों, पर्वत की चोटियों और चोटियों से बचें। किसी को भी तुरंत एक जल निकाय(Water body) से बाहर निकल जाना चाहिए और दूर हो जाना चाहिए।

 

YOU MAY LIKE TO READ ON - 5 ways topromotr Your youtube Channel Using Twitter for free

 

(5.) जमीन पर सपाट कभी लेटें, इसके बजाय "लाइटनिंग क्रॉच"(“lightning crotch.”) की स्थिति में जाएं। इस स्थिति में, बैठना चाहिए, अपनी बाहों को पैरों के चारों ओर लपेटना चाहिए, पैरों को एक साथ रखना चाहिए, सिर नीचे करना चाहिए, कान ढके हुए होने चाहिए और आंखें बंद रखनी चाहिए।

 

(6.) यदि किसी की गर्दन के पीछे के बाल खड़े हो रहे हैं, तो यह एक संकेत हो सकता है कि बिजली का झटका "आसन्न"(Imminent) अर्थात निकट ही कहीं हो सकता है। बिजली का संचालन करने वाली लाइनों और वस्तुओं से दूर रहें, और सभी बिजली के उपकरणों को तुरंत अनप्लग करें।

 

(7) पेड़ों के नीचे आश्रय लेना सख्त वर्जित है क्योंकि ये बिजली के संवाहक होते हैं। यदि समूह में फंस गए हैं, तो नुकसान मात्रा या चोट लगाने की संख्या को कम करने के लिए एक-दूसरे के करीब खड़े होने से बचें।

 

(8) अद्यतन जानकारी या निर्देशों के लिए स्थानीय रेडियो और टेलीविजन स्टेशनों या अन्य श्रोतों से प्राप्त होने वाले समाचार सुनना जारी रखें।

 

 

तो यह थी लइटेनिंग स्ट्राइक, उससे होने वाले नुकसान और खतरों तथा उससे बचाव के तरीकों की लंबी चौड़ी राम कहानी जो हमने आपकी सेवा में प्रस्तुत की आशा करते हैं कि हमारा प्रयास आपको पसंद आया होगा कृपया हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब करें हमारी पोस्ट को अपने मित्रों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करें अपनी राय हमें कमेंट के जरिए दें हमारी वेबसाइट पर विजिट करने के लिए धन्यवाद। अगर आप हमसे कुछ और पूछना चाहते हैं या हमसे संपर्क करना चाहते हैं तो हमारी पोस्ट पर कमेंट करके या हमारी वेबसाइट के होम पेज पर मौजूद कांटेक्ट फार्म का इस्तेमाल करके हमसे संपर्क कर सकते हैं अगर आप हमसे संपर्क करेंगे तो हमें बहुत प्रसन्नता होगी नमस्कार धन्यवाद आपका दिन शुभ हो

 

where does Lightning Strike the most, Is lightning a natural phenomenon, What is the phenomenon of lightning, what causes lightning to strike a person, what happens when lightning strikes near you, how many people are killed by lightning per year, What happens when lightning strikes something

 

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें

Please Donot spam