google-site-verification: googlefcc831f3afff5489.html google-site-verification=XK9IDkjU7jjUURp5A425iStvbYoDk39UO0ryXDjSqWw google-site-verification: googlefcc831f3afff5489.html How to remove virus from an Android devices ~ Computer, Blogging, Mobile Phones,Technology Networking, security tips, online Frauds, Malware

How to remove virus from an Android devices

एंड्रॉयड मालवेयर और वायरस क्या होते हैं यह आपके डिवाइस में कैसे आते हैं यह आपके डिवाइस में क्या करते हैं इन से कैसे बचा जा सकता है संक्रमण को कैसे हटाया जाता है What are Android malware and viruses, how do they get into your device, what they do to your device, how to avoid them, how to remove infections

क्या आपके Android फ़ोन में कोई वायरस/मैलवेयर है? क्या आपका फोन किसी मैलवेयर या अन्य दुर्भावनापूर्ण ऐप से संक्रमित है? क्या आपकी संवेदनशील सूचनाएं और व्यक्तिगत जानकारी लीक हो रही है या चुराई जा रही है क्या आप की सूचनाएं और डाटा ऐसे अपराधियों के पास पहुंच सकता है जो आपसे फिरौती की मांग करें? यदि आप के मन में इस तरह के प्रश्न उठ रहे हैं, तो यह आर्टिकल निश्चय ही आपके लिए है.यहां Android उपकरणों और उन पर होने वाले साइबर हमलों तथा हमलों से बचाव और संक्रमण हटाने के तरीकों के बारे में विस्तार से समझाया गया है तथा यह उपयोगी जानकारी आपकी निश्चय ही सहायता कर सकती हैं।

 

android malware- A detailed study

क्या होते हैं एंड्रॉइड वायरस और अन्य प्रकार के मैलवेयर What are Android Viruses and other types of malware

मैलवेयर दुर्भावनापूर्ण सॉफ़्टवेयर(Malicious Software) होते है जो आपके फ़ोन में चुपके से प्रवेश कर जाते/सकते है। नुकसान पहुंचाने के इरादे से लिखे गए मैलवेयर में वायरस, कंप्यूटर वर्म्स, ट्रोजन, रैंसमवेयर और स्पाइवेयर शामिल हो सकते हैं।

साइबर अपराधी आपके व्यक्तिगत डेटा तक पहुंचने के लिए मैलवेयर का उपयोग कर सकते हैं और कुछ मामलों में, बाद में पहचान की चोरी, ब्लैक मेलिंग, या धोखाधड़ी करने के लिए उस संवेदनशील जानकारी का उपयोग कर सकते हैं।

वायरस भी एक विशेष प्रकार का मैलवेयर ही होता हैं जो किसी कंप्यूटर या अन्य ऑनलाइन डिवाइस और उनके प्रोग्राम में घुसपैठ कर सकता हैं। एक साइबर अपराधी आपकी जानकारी या सहमति के बिना आपके डिवाइस पर वायरस स्थापित करने में सक्षम हो सकता है। जब आपके डिवाइस पर इंस्टॉल हो जाता है तब वायरस आपके डिवाइस पर नया, दुर्भावनापूर्ण कोड डालने में सक्षम हो सकता है जो आपकी ऑनलाइन गतिविधि की निगरानी और हेरफेर(Manipulate) कर सकता है। 

 

YOU MAY LIKE TO READ ON -  How to enable Powerbutton ends call feature-Android


 

एंड्रॉइड फोन पर वायरस और अन्य मैलवेयर क्या क्या नुकसान कर सकते हैं? What can viruses and other malware do to Android phones?

मैलवेयर आमतौर पर साइबर अपराधियों द्वारा अपने लिए राजस्व उत्पन्न(To Generate Revenue) करने के लिए डिज़ाइन किया गया होता है।

मैलवेयर आपकी व्यक्तिगत जानकारी चुरा सकता है, आपके डिवाइस को प्रीमियम दर टेक्स्ट सेवाओं को एसएमएस संदेश भेज सकता है, या एडवेयर इंस्टॉल कर सकता है जो आपको वेब पेज देखने या ऐप्स डाउनलोड करने के लिए मजबूर कर सकता है।

जानकारी चुराने वाले मैलवेयर(Malware) आपकी संपर्क सूची(Contact List), आपकी व्यक्तिगत जानकारी, आपका स्थान(Location), आपके पासवर्ड और बहुत कुछ चुरा सकते हैं।

मैलवेयर की सहायता से, साइबर अपराधी आपके उपकरणों तक पहुंच सकते हैं और अपने स्वयं के उपयोग के लिए या डार्क वेब पर बेचने के लिए आपकी जानकारी चुरा सकते हैं।

हैकर्स डिवाइस को लॉक करने और व्यक्तिगत फाइलों को एन्क्रिप्ट करने के लिए रैंसमवेयर का भी उपयोग करते हैं। फिर वे अपनी फाइलों तक पहुंच हासिल करने के लिए आप से फिरौती की मांग कर सकते हैं।

 

YOU MAY LIKE TO READ ON -  How to turn on select to speakTalkback in Android


संकेत जो दर्शाते हैं कि आपके Android फ़ोन में वायरस या अन्य मैलवेयर हो सकते हैं Symptoms that say your Android phone may have a virus or other malware

फ़ोन बाहरी अथवा आंतरिक किसी भी रूप से क्षतिग्रस्त होने(Vulnerable to damage externally and internally) की चपेट में आ सकते हैं। जबकि बाहरी क्षति आमतौर पर दिखाई देती है, और आंतरिक क्षति हमेशा अदृश्य ही रहती है।

वायरस जैसे मैलवेयर बार-बार(Repeatedly) ऐसे कार्य करने के लिए जाने जाते हैं जो आपके उपकरणों पर उपलब्ध संसाधनों(Resources) को हानि पहुंचा सकते हैं। अगर आपका स्मार्ट फोन मैलवेयर से संक्रमित है तो सामान्यतया संक्रमण के निम्नलिखित लक्षण प्रकट हो सकते हैं।

1. आपका फोन बहुत धीमा चल सकता है।

2. ऐप्स लोड होने में अधिक समय ले सकते हैं।

3. बैटरी अपेक्षा से अधिक तेजी से डिस्चार्ज हो सकती है।

4. बार-बार पॉप-अप विज्ञापन दिखाई दे सकते है।

5. आपके फोन में ऐसे ऐप्स हो सकते हैं जिन्हें आपने डाउनलोड नहीं किया अथवा उनको डाउनलोड करना आपको याद नहीं है।

6. अस्पष्टीकृत(Unexplained) डेटा उपयोग होता है।

7. अधिक फोन बिल आते हैं।

 

YOU MAY LIKE TO READ ON -  150 malicious Android apps banned by Google Uninstall now


अपने Android फ़ोन पर वायरस और अन्य 
मैलवेयर की जांच कैसे करें How to check 
for viruses and other malware on 
your Android phone

अपने एंड्रॉइड फोन पर मैलवेयर की जांच करने का एक अच्छा तरीका एंटीवायरस स्कैन चलाना है। सभी कंपनियों के प्रोडक्ट के साथ कंपनी का अपना एक इनबिल्ट वायरस प्रोटेक्शन आता है जैसे कि गूगल प्ले प्रोटेक्ट. आप निश्चित अंतराल ऊपर गूगल प्ले प्रोटेक्ट से स्कैन करते रहे और ऑटोमेटिक स्कैन हमेशा आन रखें.

अगर आप चाहते हैं कि थर्ड पार्टी एंटीवायरस खरीदें तो अपने फोन के लिए एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर खरीदने से पहले, सुनिश्चित करें कि आप अपने डिवाइस के लिए उपलब्ध सबसे व्यापक उत्पाद पर विचार कर रहे हैं। बाजार में कई एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर विकल्प उपलब्ध हैं।

यह सुनिश्चित करने के लिए कि आप जिस सुरक्षा सॉफ़्टवेयर में निवेश करते हैं वह एक पूर्ण और प्रभावी स्कैन चलाता है और किसी भी कमजोरियों को नजरअंदाज नहीं करता है अपना शोध(Research) करना एक अच्छा विचार है । जब वास्तव में, आपका डिवाइस साइबर हमले की चपेट में आ जाता है एक अधूरा स्कैन आपको सुरक्षा का केवल झूठा एहसास दे सकता है।

 

YOU MAY LIKE TO READ ON -  howto turn on accessibility menu on android phone


अपने Android डिवाइस से वायरस और अन्य मैलवेयर कैसे हटाए How to remove viruses and other malware from your Android device

अगर आपको लगता है कि आपके फोन में मैलवेयर है, तो यह बात अति महत्वपूर्ण है कि मैलवेयर द्वारा आपकी डिवाइस को और नुकसान पहुंचाने से रोकना अत्यावश्यक है। यहां कुछ टिप्स दिए गए हैं जिनको आप अमल में ला सकते हैं।

1.   फोन को बंद करें और सुरक्षित मोड में रीबूट करें। पावर ऑफ विकल्पों तक पहुंचने के लिए पावर बटन दबाएं। अधिकांश एंड्रॉइड फोन सेफ मोड में पुनरारंभ(Restart) करने के विकल्प के साथ आते हैं। अपने फोन को "सुरक्षित मोड"(Safe Mode) में बूट करने के लिए अपने फोन का पावर बटन दबाएं। जब ऐनिमेशन शुरू हो जाए, तो अपने फोन के वॉल्यूम डाउन बटन को दबाकर रखें। इसे तब तक दबाए रखें जब तक एनिमेशन खत्म न हो जाए और आपका फोन फिर से चालू न हो जाए। अब आपको अपनी स्क्रीन के नीचे "सुरक्षित मोड(Safe Mode)" दिखाई देगा।

2.   अगर आपको कोई संदिग्ध ऐप दिखाई दे तो इस को अनइंस्टॉल करें। यहां आप सेटिंग्स में जाकर एप्स ढूंढें और जो भी संदिग्ध हो उसे तुरंत अनइनस्टॉल या फोर्स अनइनस्टॉल करें। यद्यपि यह मैलवेयर को पूरी तरह से नहीं हटा सकता है, लेकिन यह आपके डिवाइस को और नुकसान होने से बचा सकता है, या इससे आपके नेटवर्क पर मैलवेयर को अन्य डिवाइस पर ट्रांसमिट होने से बचा जा सकता है।

3.   अन्य ऐप्स की भी जांच करें जो आपको लगता है कि संक्रमित हो सकते हैं। इस बात की पूरी संभावना है कि कुछ अन्य ऐप्स भी मैलवेयर से संक्रमित हो गए हों। अगर आपको लगता है कि आप उन ऐप्स को पहचान सकते हैं, तो उन्हें तुरंत हटा दें।

4.   यद्यपि फोन के निर्माता द्वारा उपलब्ध करवाया गया इनबिल्ट सिक्योरिटी सॉफ्टवेयर पर्याप्त होता है फिर भी अगर आपको लगता है कि यह पर्याप्त नहीं है तो आप अपने फोन पर कोई दूसरा मोबाइल सुरक्षा ऐप इंस्टॉल कर सकते हैं जिस पर आपको विश्वास हो।

 

YOU MAY LIKE TO READ ON -  How to record screen on your Androidphone


अपने Android डिवाइस को वायरस और अन्य मैलवेयर से बचाने में मदद करने के लिए टिप्स Tips to help protect your Android device against viruses and other malware

यह सुनिश्चित करने के लिए कि आपकी डिवाइस संक्रमित होने से बची रहे तथा भविष्य के जोखिमों से बचाव में मदद के लिए आप यहां सात प्रमुख टिप्स दिए गए हैं जिन पर अमल करके आप अपने डिवाइस को सुरक्षित रख सकते हैं।

1. अपने Android डिवाइस की सुरक्षा के लिए मजबूत सुरक्षा सॉफ़्टवेयर चाहे वह इनबिल्ट हो या थर्ड पार्टी सॉफ्टवेयर, इसे हमेशा अपडेटेड रखें और उसका उपयोग करें।

2. सभी ऑपरेटिंग सिस्टम और सॉफ्टवेयर को नवीनतम संस्करणों से अपडेट रखें।

3. ईमेल और टेक्स्ट संदेशों में संदिग्ध या अपरिचित लिंक पर क्लिक न करें।

4. मजबूत, जटिल पासवर्ड रखें इसके लिए आप चाहे तो किसी विश्वसनीय पासवर्ड मैनेजर का प्रयोग कर सकते हैं।

5. कभी भी असुरक्षित वाई-फाई कनेक्शन का इस्तेमाल न करें। सार्वजनिक वाई-फाई से कनेक्ट करते समय हमेशा वीपीएन का उपयोग करें। कृपया ध्यान दें कि वीपीएन को भी पूर्णतया सुरक्षित नहीं माना जा सकता.

6. इंटरनेट से कनेक्ट होने वाले सभी उपकरणों पर हमेशा मजबूत साइबर सुरक्षा का उपयोग करें।

7. हमेशा विश्वसनीय स्रोतों से ही ऐप इंस्टॉल करें, जैसे कि Google Play Store, ऐप डेवलपर की पूरी तरह जांच करें कि यह पूर्णतया विश्वसनीय है या नहीं, यह समझने के लिए ऐप्स पर फाइन प्रिंट पढ़ें और और इसकी भी जांच करें कि आप से क्या क्या अनुमतियां मांगी जा रही है।

कृपया ध्यान रखें कि यह एक अच्छा विचार है कि जब तक आपका उपकरण संक्रमित न हो जाए तब तक प्रतीक्षा न करें। अपने Android डिवाइस की सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता दे। एक अच्छा एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर चाहे वह थर्ड पार्टी एंटीवायरस हो या इनबिल्ट एंटीवायरस आपके पीसी, टैबलेट और अन्य Android उपकरणों को सुरक्षित रखने में मदद करता है, मैलवेयर को डिवाइस से डिवाइस में फैलने से रोकने में मदद कर सकता है।

तो यह था आपकी एंड्राइड डिवाइस से वायरस, मैलवेयर हटाने  के तरीके की राम कहानी जो हमने आपकी सेवा में प्रस्तुत किया। आशा करते हैं कि हमारा प्रयास आपको पसंद आया होगा ।कृपया हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब करें । हमारी पोस्ट को अपने मित्रों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करें । अपनी राय हमें कमेंट के जरिए दें । हमारी वेबसाइट पर विजिट करने के लिए धन्यवाद। अगर आप हमसे कुछ और पूछना चाहते हैं या हमसे संपर्क करना चाहते हैं तो हमारी पोस्ट पर कमेंट करके या हमारी वेबसाइट के होम पेज पर मौजूद कांटेक्ट फार्म का इस्तेमाल करके हमसे संपर्क कर सकते हैं । अगर आप हमसे संपर्क करेंगे तो हमें बहुत प्रसन्नता होगी । नमस्कार धन्यवाद आपका दिन शुभ हो ।

free remove virus from android, how to know if my phone has malware, how to remove virus from samsung phone, can you get a virus on your phone by visiting a website, How to remove a virus from my Android phone without factory reset, How to check for viruses on my Android phone, Which is the best app to remove virus from Android phone, How to remove a virus from my Android phone without factory reset

 

0 $type={blogger}:

एक टिप्पणी भेजें

Please Donot spam