google-site-verification: googlefcc831f3afff5489.html google-site-verification=XK9IDkjU7jjUURp5A425iStvbYoDk39UO0ryXDjSqWw google-site-verification: googlefcc831f3afff5489.html Secure Wireless (Wi-Fi) Home Network From hackers Wi-Fi thives ~ Blog on Computer, Blogging, Mobile Phones,Technology Network security tips banking Frauds, Malware,

Secure Wireless (Wi-Fi) Home Network From hackers Wi-Fi thives

अपने घर के वाईफाई नेटवर्क को हैकरो, वाईफाई चोरों, अपराधियों द्वारा दुरुपयोग तथा पड़ोसियों द्वारा चुराए जाने से कैसे बचाएं How to keep your home wi-fi safe from hacker, criminals, wi-Fi themes, neighbors  and play safe

वायरलेस नेटवर्किंग (वाई-फाई) ने आजकल  कंप्यूटर, मोबाइल फोन, टैबलेट और अन्य वायरलेस उपकरणों पर इंटरनेट का उपयोग करना इतना आसान बना दिया है कि आप घर के किसी भी कोने में बैठ कर इंटरनेट चला सकते हैं तथा फिजिकल केबल की भी कोई आवश्यकता नहीं होती पारंपरिक वायर्ड नेटवर्कों के मामलों में, किसी के लिए आपका बैंडविड्थ चुराना बेहद मुश्किल होता है, लेकिन वायरलेस सिग्नल के साथ सबसे बड़ी समस्या यह है कि कोई भी आपके ब्रॉडबैंड कनेक्शन का उपयोग करके अपने डिवाइस पर इंटरनेट का उपयोग कर सकता हैं, चाहे वह उसी इमारत में हो, वे आपके पड़ोसी हो और साथ वाली इमारत में रहते हों या आपके घर के सामने या साइड में खड़ी कार में बैठे हों

 

Wi-Fi safety and Security from hackers, criminals and neighbors

यह चालाकी, जिसे आजकल पिग्गीबैकिंग कहा जाता है, इसे चार कारणों से खराबऔर खतरनाक भी माना गया है:

(1)  आपके वाईफाई से जो डाटा चुराया गया है वह आपके सेवा प्रदाता ने तो आपके नाम से ही जारी किया है और उसे किसी दूसरे ने चुरा लिया तो भी यह आपके अकाउंट में ही गिना जाएगा इसलिए यह आपके मासिक इंटरनेट बिल को बढ़ा देगा इस कारण आपको इसका भुगतान करना होगा।

(2)  उसी इंटरनेट कनेक्शन पर कई लोग जुड़ जाते हैं जिससे डाटा ड्रेन हो जाता है जो इसकी स्पीड को प्रभावित करता है इस कारण यह आपके इंटरनेट एक्सेस की गति को कम कर देगा

(3)  यह आपके लिए एक बहुत बड़ा सुरक्षा खतरा साबित हो सकता है क्योंकि अन्य लोग आपके कंप्यूटर को हैक कर सकते हैं और आपके अपने स्वयं के वायरलेस नेटवर्क के माध्यम से ही आपकी व्यक्तिगत फ़ाइलों तक पहुंच सकते हैं, आप की संवेदनशील जानकारी चुरा सकते हैं और आप को गंभीर नुकसान भी पहुंचा सकते हैं।

 

YOU MA LIKE TO READ ON - Howto removeMalware Wincheck and how Harmful is Wincheck


 

(4)  कोई अपराधी किस्म के बुरे लोग भी इसका उपयोग कर सकते हैं - ऐसे बहुत से उदाहरण सामने आए हैं जहां निर्दोष इंटरनेट उपयोगकर्ताओं के खिलाफ आपत्तिजनक ईमेल, हेट ईमेल भेजने के लिए कानूनी कार्यवाही की गई है, जबकि वास्तव  में, असुरक्षित वाई-फाई नेटवर्क के कारण उनके ईमेल खाते हैक कर लिए गए थे

इससे कैसे बचें  - इस से बचाव के लिए Wireshark नामक एक फ्री स्लीपिंग टूल(Sniffing tool) उपलब्ध है जो Linux, Mac और Windows सभी वायरलेस नेटवर्क ट्रैफ़िक  कुकी, फ़ॉर्म और अन्य HTTP अनुरोधों सहित स्कैन कर सकता है

 

अपने वायरलेस नेटवर्क को सुरक्षित कैसे रखेंHow to Secure Your Wireless Network

 

अच्छी खबर यह है कि अपने वायरलेस नेटवर्क को सुरक्षित बनाना बहुत कठिन भी नहीं है आपको ऐसा तरीका अपनाना है जो दूसरों को आपके इंटरनेट को चोरी करने से और हैकर्स को आपके वायरलेस नेटवर्क के माध्यम से आपके कंप्यूटर पर नियंत्रण करना दोनों से रोकता हो यहां कुछ सरल तरीके बताए गए हैं जिन्हें आप अपने वायरलेस नेटवर्क को सुरक्षित रखने के लिए अपना सकते हैं-

 

1. अपना राउटर सेटिंग्स पृष्ठ खोलने का तरीकाHow to Open your router settings page

 

सबसे पहले, आपको यह जानना होगा कि अपने वायरलेस राउटर की सेटिंग तक कैसे पहुंचा जाए। सबसे पहले अपने राउटर को अपने कंप्यूटर से सही तरीके से कनेक्ट करें उसके बाद आमतौर पर आप इसे अपने वेब ब्राउज़र में "192.168.1.1" टाइप करके एक्सेस(Access) कर सकते हैं, और फिर राउटर के लिए सही उपयोगकर्ता नाम और पासवर्ड(Username and Password) दर्ज करें। सामान्यतया "192.168.1.1" पर स्थाई यूजरनेम भी admin तथा स्थाई पासवर्ड भी admin ही होता है लेकिन यह किसी राउटर के लिए अलग भी हो सकता है, इसलिए पहले अपने राउटर के उपयोगकर्ता मैनुअल(User manual) को ध्यान से पढ़ें।

 

YOU MA LIKE TO READ ON - SearchEngine-How it works, index websites and decides Precedence webpages


 

यदि आप के राउटर खरीदते समय उसके के साथ आया मुद्रित मैनुअल(Printed manual)  खो जाता हैं, तो आप अधिकांश राउटरों के मैन्युअल खोजने के लिए Google Search का उपयोग कर सकते हैं। आपके संदर्भ के लिए, यहां कुछ लोकप्रिय राउटर ब्रांडों के निर्माता की साइट के लिंक दिए गए हैं अगर आपका रूटर ब्रांड इनमें से कोई है तो आप इनमें से कोई लिंक सीधे इस्तेमाल कर सकते हैं हां - Linksys, Cisco, Netgear, Apple AirPort, SMC, D-Link, Buffalo, TP-LINK, 3Com, Belkin.

 

2. अपने राउटर पर एक मजबूत पासवर्ड डालेंCreate Strong password on your router

 

अपने राउटर पर लॉगिन करें और सबसे पहले अपने नेटवर्क को सुरक्षित करने के लिए एक मजबूत पासवर्ड डालें जिसमें लेटर, फिगर, अपर केस, लोवर केश, और सिंबल भी शामिल हो। राउटर के डिफ़ॉल्ट पासवर्ड को कभी यथावत ना रखें तथा इसे तुरंत बदल दे। आपका यह काम दूसरों को आपके राउटर तक पहुंचने से रोकेगा और आप अपनी इच्छित सुरक्षा सेटिंग्स को आसानी से बदल भी सकते हैं। आप अपने राउटर के सेटिंग पेज पर प्रशासन सेटिंग्स(Admin Setting) मैं जाकर अपना पासवर्ड कभी भी बदल सकते हैं। अधिकांश राउटर्स के डिफ़ॉल्ट पासवर्ड आमतौर पर व्यवस्थापक/पासवर्ड(admin / password) होते हैं तथा इसको सब जानते हैं। यह डिफ़ॉल्ट उपयोगकर्ता नाम और वायरलेस राउटर, मॉडेम, स्विच और अन्य नेटवर्किंग उपकरण के पासवर्ड का एक सार्वजनिक डेटाबेस है। उदाहरण के लिए, इस बात को सब जानते हैं कि किसी मॉडम उपकरण के यूजर नेम और पासवर्ड चेंज नहीं किए गए हैं तो उस के लिए फ़ैक्टरी-डिफ़ॉल्ट सेटिंग्स यूजरनेम और पासवर्ड दोनों admin and admin का उपयोग करके एक्सेस किया जा सकता है।

 

YOU MA LIKE TO READ ON - HTML Basics-Webpage, HTML document and principles of HTML writing


 3. अपने नेटवर्क का SSID नाम बदलेंChange your Network’s SSID name

 

आपके वायरलेस राउटर का SSID (Service Set Identifier या वायरलेस नेटवर्क नाम) आमतौर पर "डिफ़ॉल्ट" रूप में पूर्व-परिभाषित होता है अधिकांश या लगभग सभी मामलों में यह राउटर के के निर्माता द्वारा राउटर के ब्रांड नाम के रूप में सेट किया जाता है (जैसे, आईबॉल कंपनी के के लिए "iBall") हालाँकि यह आपके नेटवर्क को कोई विशेष सुरक्षा प्रदान नहीं करेगा फिर भी आपके नेटवर्क के SSID नाम को बदलना अच्छा रहता है क्योंकि अगर आप नहीं बदलेंगे तो यह दूसरों के लिए यह जानना और अधिक स्पष्ट कर देगा कि आप किस उपकरण का इस्तेमाल करते हुए नेटवर्क से जुड़ रहे हैं।

 

SSID सेटिंग कैसे करें - यह सेटिंग आमतौर पर आपके राउटर के सेटिंग पेज में बेसिक वायरलेस सेटिंग्स के अंतर्गत होती है। एक बार यह सेट करने के बाद, आप हमेशा सुनिश्चित कर सकेंगे कि आप सही वायरलेस नेटवर्क से कनेक्ट हो रहे हैं, भले ही आपके क्षेत्र में कई वायरलेस नेटवर्क हों। अपना SSID नाम रखने के बारे में भी थोड़ी सतर्कता बरतनी चाहिए। अपना SSID नाम कभी भी अपने घर का पता, घर का नाम, स्ट्रीट का नाम, परिवार के किसी सदस्य का नाम, अपना स्वयं का नाम या अन्य व्यक्तिगत जानकारी जैसा कभी रखें। वाईफाई(Wi-Fi) चोर विभिन्न वाई-फाई स्कैनिंग टूल जैसे कि inSSIDer  (विंडोज के लिए) और किस्मत (मैक, लिनक्स के लिए)( Kismet (Mac, Linux)) उपयोग करते हैं यह तथा बहुत सारे अन्य ऐसे टूल इंटरनेट पर उपलब्ध है तथा यह फ्री ऑफ कॉस्ट है यह टूल उस क्षेत्र में उपलब्ध सभी वाईफाई नेटवर्क को खोज कर बता देते हैं भले ही वे अपने SSID नाम का प्रसारण ना कर रहे हो

 

यह SSID क्या है - SSID का फुल फॉर्म है-Service Set Identifier यानि वायरलेस नेटवर्क नाम । एक एसएसआईडी एक यूनिक आईडी है जिसमें 32 फिगर होते हैं और इसका उपयोग वायरलेस नेटवर्क के नामकरण के लिए किया जाता है। जब एक निश्चित स्थान पर कई वायरलेस नेटवर्क ओवरलैप होते हैं, तो SSIDs यह सुनिश्चित करते हैं कि डेटा सही गंतव्य पर भेजा जाता है।

 

YOU MA LIKE TO READ ON - How doesmalware infection come to your PC-all tricks used by criminals


 

4. नेटवर्क एन्क्रिप्शन इनेबल करेंEnable Network Encryption

 

अपने इंटरनेट कनेक्शन का उपयोग करने से क्षेत्र के अन्य कंप्यूटरों को रोकने के लिए, आपको अपने वायरलेस सिग्नल को एन्क्रिप्ट करने की आवश्यकता है। वायरलेस सेटिंग्स मैं आपको एन्क्रिप्शन के कई तरीके मिलते हैं, जिनमें WEP, WPA (WPA-Personal) और WPA2 (वाई-फाई प्रोटेक्टेड एक्सेस वर्जन 2) शामिल हैं। WEP बुनियादी एन्क्रिप्शन(Basic Encription) है और इसलिए कम सुरक्षित है (यानी, यह आसानी से टूट सकता है(i.e., it can be easily cracked), लेकिन पुराने हार्डवेयर सहित उपकरणों की एक विस्तृत श्रृंखला से कंपैटिबल है, जबकि WPA2 सबसे सुरक्षित है लेकिन केवल 2006 के बाद में निर्मित हार्डवेयर के साथ ही कंपैटिबल है।

 

अपने वायरलेस नेटवर्क पर एन्क्रिप्शन कैसे इनेबल करें - अपने वायरलेस नेटवर्क पर एन्क्रिप्शन को इनेबल करने के लिए, अपने राउटर के कॉन्फ़िगरेशन पृष्ठ पर वायरलेस सुरक्षा सेटिंग्स(Wireless security settings) खोलें। यहां आपको ऑप्शन मिलेंगे कि आप किस सुरक्षा विधि(Security setting) को चुनना चाहते हैं यदि आपके पास पुराने उपकरण हैं, तो WEP चुनें, अन्यथा WPA2  श्रेष्ठ है। नेटवर्क तक पहुंचने के लिए एक password दर्ज करें; यह सुनिश्चित करें कि ऐसा पासवर्ड बनाना है जिसका दूसरों के लिए अनुमान लगाना मुश्किल हो, और पासवर्ड में अक्षरों, संख्याओं और विशेष वर्णों(Letterss, Figures, Upper case/Lower Case, Special characters) का उपयोग करना सुनिश्चित करें।

 

YOU MA LIKE TO READ ON - एंड्रॉइड डिवाइस पर स्पेस खाली करने के तरीकेHow to Free Up Space Android Device


वाईफाई चोर पासवर्ड क्रैक करने के लिए क्या उपयोग करते हैं - वाईफाई चोर पासवर्ड ब्रेक करने के लिए AirCrack और coWPAtty जैसे कुछ ऑनलाइन टूल उपयोग करते हैं जो इंटरनेट पर फ्री ऑफ कॉस्ट उपलब्ध है। यह टूल डिक्शनरी और ब्रूट फोर्स जैसी तकनीक(Dictionary or brute force techniques) इस्तेमाल करके WEP/WPA (PSK) पासवर्ड को क्रैक करते हैं तथा इनकी मदद से ऐसे लोग भी वाईफाई का पासवर्ड क्रैक कर लेते हैं जो प्रोफेशनल हैकर या इसी तरह के अपराधी नहीं है यह भी जानकारी मिली है कि AirCrack टूल की मदद से जेलब्रोकन iPhone या iPod टच का उपयोग करके आसानी से WiFi एन्क्रिप्शन को क्रेक किया जा सकता है।

 

5. अपने मैक एड्रेस को फ़िल्टर करेंFilter MAC your addresses 

 

चाहे आपके पास लैपटॉप हो या वाई-फाई इनेबल्ड मोबाइल फोन, आपके सभी वायरलेस उपकरणों में एक यूनिक मैक एड्रेस होता है (कृपया नोट करें कि इस मैक ऐड्रेस का Apple Mac से कोई लेना-देना नहीं है बल्कि यह उस तरह होता है जैसे हर इंटरनेट कनेक्शन का एक यूनिक आईपी एड्रेस होता है) ठीक उसी तरह जैसे इंटरनेट से जुड़े प्रत्येक कंप्यूटर में एक यूनिक IP पता होता है। सुरक्षा की एक अतिरिक्त परत(An additional security layer)  के रूप में, आप अपने वायरलेस राउटर की सेटिंग में अपने सभी उपकरणों के मैक एड्रेस जोड़ सकते हैं ताकि केवल निर्दिष्ट(Specific) डिवाइस ही आपके वाई-फाई नेटवर्क से जुड़ सकें।

 

YOU MA LIKE TO READ ON - रैंसमवेयर से अपने पीसी को कैसे बचाएंHow to Protect PC from Ransomware


मैक एड्रेस आपके नेटवर्किंग उपकरण में हार्ड-कोडेड(Hard-coded) होते हैं, इसलिए एक पता नेटवर्क पर केवल एक डिवाइस को जाने देगा लेकिन  दुर्भाग्य से, मैक एड्रेस को धोखा दिया जाना(Spoofing) संभव है लेकिन धोखा देने या स्पूफिंग का प्रयास करने से पहले हमलावर को टारगेट कंप्यूटर के सभी मैक ऐड्रेस में से कम से कम एक मैक ऐड्रेस का पता होना आवश्यक है जो आपके वायरलेस नेटवर्क से जुड़ा हो

 

अपना मैक ऐड्रेस(MAC Address) कैसे ढूंढे - मैक एड्रेस फ़िल्टरिंग को सक्षम करने के लिए, पहले अपने सभी हार्डवेयर उपकरणों की एक सूची बनाएं, जिन्हें आप अपने वायरलेस नेटवर्क से कनेक्ट करना चाहते हैं। उनके मैक पते खोजें, और फिर उन्हें अपने रूटर की प्रशासनिक सेटिंग्स(Administrative settings) में फ़िल्टर करने वाले मैक एड्रेस में जोड़ें। आप अपने कंप्यूटर के लिए मैक एड्रेस ढूंढने के लिए अपने कंप्यूटर में कमांड प्रॉम्प्ट(Command prompt) खोलें और यह कमांड टाइप करके ipconfig/all एंटर दबाएं इंटर दबाते ही आपका कंप्यूटर आपके मैक पते को "भौतिक पता"(“Physical Address”) नाम के साथ दिखाएगा। आप अपने नेटवर्क सेटिंग्स(Network settings) के अंतर्गत वायरलेस मोबाइल फोन और अन्य पोर्टेबल उपकरणों के मैक पते भी जान सकते हैं, हालांकि यह प्रत्येक डिवाइस के लिए अलग-अलग होता है।

 

YOU MA LIKE TO READ ON - How to use quora to promote blog Quora पर ब्लॉग कैसे प्रोमोट करें


अपराधी Wi-Fi में सेंधमारी के लिए कौन सा तरीका अपनाते हैं - कोई व्यक्ति अपने स्वयं के कंप्यूटर के मैक पते को बदल सकता है और आपके नेटवर्क से आसानी से कनेक्ट कर सकता है क्योंकि आपका नेटवर्क उन उपकरणों से कनेक्शन की अनुमति देता है जिनके पास वह विशेष मैक पते है। कोई भी वाईफाई चोर/अपराधी/हैकर Nmap जैसे सूंघने वाले(Sniffing tool) टूल का उपयोग करके आपके डिवाइस वायरलेस के मैक पते को जान सकता है और वह तब मैक शिफ्ट(MAC Shift) जैसे किसी अन्य फ्री टूल का उपयोग करके अपने कंप्यूटर के मैक पते को बदल कर वही मैक ऐड्रेस बना सकता है जो मैक ऐड्रेस आपके सिस्टम का है

 

6. वायरलेस सिग्नल की रेंज कम करेंReduce Range of Wireless Signal

 

यदि आपके वायरलेस राउटर में एक उच्च रेंज है लेकिन आप एक छोटे से स्टूडियो अपार्टमेंट में रह रहे हैं, तो आप अपने राउटर के मोड को 802.11n या 802.11b के बजाय 802.11g पर सेट करें या एक कम रेंज वाले वायरलेस रूटर का इस्तेमाल करें।

 

YOU MA LIKE TO READ ON - उपयोगी नेटवर्किंग कमांड   यू आर एल Useful Networking Commands & URLs


आप राउटर को बिस्तर के नीचे रख कर या एक जूते के बॉक्स के अंदर रखकर सिग्नल रेंज को कुछ कम कर सकते हैं आप राउटर एंटेना के चारों ओर पन्नी लपेट कर सिग्नल की दिशा को कुछ हद तक प्रतिबंधित कर सकते हैं।

 

एंटी-वाई-फाई पेंट लागू करें - शोधकर्ताओं ने एक विशेष वाई-फाई ब्लॉकिंग पेंट भी विकसित भी किया है जो आपको रूटर स्तर पर एन्क्रिप्शन सेट किए बिना पड़ोसियों को आपके होम नेटवर्क तक पहुंचने से रोकने में मदद कर सकता है। पेंट में ऐसे रसायन होते हैं जो उन्हें अवशोषित करके रेडियो सिग्नल को रोकते हैं। "इस विशेष वाई-फाई ब्लॉकिंग पेंट से एक पूरे कमरे को कोटिंग करने से, वाई-फाई सिग्नल उस कमरे के अंदर नहीं सकते, उसी अनुसार सिग्नल कमरे से बाहर भी नहीं निकल सकते।"

 

YOU MA LIKE TO READ ON - इनकॉग्निटो मोड और वीपीएन में क्या फर्क हैWhat’s the Difference Between Incognito Mode and VPN


7. अपने राउटर के फर्मवेयर को अपग्रेड करेंUpgrade your Router’s firmware

 

आपको यह सुनिश्चित करने के लिए कभी-कभी निर्माता की साइट की जांच करनी चाहिए कि आपका राउटर नवीनतम फर्मवेयर चला रहा है या नहीं। आप अपने राउटर के मौजूदा फर्मवेयर संस्करण को राउटर के डैशबोर्ड से 192.168.1.1 (प्रधानमंत्री यह पता आपके लिए अलग हो सकता है) पर प्राप्त कर सकते हैं।

 

हमेशा अपने सुरक्षित वायरलेस नेटवर्क से कनेक्ट करेंAlways Connect to your Secure Wireless Network

 

संक्षेप में कहे तो, WPA2 (AES) एन्क्रिप्शन और एक वास्तव में मजबूत पासवर्ड के साथ मैक एड्रेस फ़िल्टरिंग शायद आपके वायरलेस नेटवर्क को सुरक्षित रखने का सबसे अच्छा तरीका है। एक बार जब आप अपने वायरलेस राउटर में विभिन्न सुरक्षा सेटिंग्स को इनेबल कर लेते हैं, तो आपको अपने कंप्यूटर और अन्य वायरलेस उपकरणों में नई सेटिंग्स जोड़ने की आवश्यकता होती है ताकि वे सभी वाई-फाई नेटवर्क से कनेक्ट हो सकें। आप इस नेटवर्क से अपने कंप्यूटर को स्वचालित रूप से कनेक्ट करने का चयन कर सकते हैं, इसलिए जब भी आप इंटरनेट से जुड़ेंगे, आपको SSID, पासवर्ड और अन्य जानकारी दर्ज नहीं करनी होगी। अब आपका वायरलेस नेटवर्क बहुत अधिक सुरक्षित होगा और घुसपैठियों को आपके वाई-फाई सिग्नलों को बाधित करना लगभग असंभव हो सकता है।

 

कैसे पता करें कि कोई आपके वायरलेस नेटवर्क से जुड़ा हुआ हैHow ti find that Who is Connected to your Wireless Network

 

यदि आप चिंतित हैं कि कोई बाहरी व्यक्ति आपके वायरलेस नेटवर्क का उपयोग करके इंटरनेट से कनेक्ट हो सकता है, तो AirSnare को आज़माएं - यह एक निशुल्क एप्लीकेशन है जो आपके वायरलेस नेटवर्क पर आने वाले अनपेक्षित मैक पते के साथ-साथ डीएचसीपी अनुरोधों(DHCP requests) के विवरण बताएगी। एक और विकल्प यह है कि आप अपने राउटर के प्रशासन पृष्ठ(Administration page) (जैसे मैं इसे 192.168.1.1 पते का उपयोग करके खोल सकता हूं) को खोलें और डीएचसीपी ग्राहक तालिका(DHCP Clients Table) देखें (यह स्टेटस> लिंक्सिस राउटर्स पर स्थानीय नेटवर्क के अंतर्गत मिलेगी)(it’s under Status > Local Network on Linksys routers) यहां आपको सभी कंप्यूटर और वायरलेस डिवाइस की सूची दिखाई देगी जो आपके होम नेटवर्क से  इस समय जुड़े हुए हैं।

 

YOU MA LIKE TO READ ON - इनकॉग्निटो मोड और वीपीएन में क्या फर्क हैWhat’s the Difference Between Incognito Mode and VPN


जब आप कंप्यूटर से कुछ लंबी अवधि के लिए दूर रहने की योजना बना रहे हैं उस समय राउटर को पूरी तरह से बंद करना भी एक अच्छा विचार है इससे आपके बिजली के बिल की भी बचत होगी और वायरलेस पिग्गीबैकरस(Wireless piggybackers) के लिए भी दरवाजा 100% बंद रहेगा।

 

यदि आप कभी भी किसी नए डिवाइस को अपने नेटवर्क से कनेक्ट होने की अनुमति देना चाहते हैं, तो आपको उसका मैक एड्रेस ढूंढना होगा और उसे अपने राउटर में जोड़ना होगा। यदि आप किसी मित्र को केवल एक बार सीमित समय के लिए अपने वायरलेस नेटवर्क से कनेक्ट होने की अनुमति देना चाहते हैं, तो जब वह अपना कनेक्शन हटा लेता है आप राउटर सेटिंग्स से उसका मैक एड्रेस निकाल सकते हैं

 

YOU MA LIKE TO READ ON - Is there a Virus in your PC how to check and removeक्या आपके कंप्यूटर में वायरस है? कैसे पता करें कैसे हटाए


तो यह थी वायरलेस राउटर Wi-Fi Router की सेटिंग, उसकी सिक्योरिटी, होम वाईफाई से पड़ोसियों अपराधियों और हैकरों द्वारा डाटा चोरी करने के तरीके उनको रोकने के तरीके, आपका डाटा कौन चोरी कर रहा है इसका पता लगाने के तरीके आदि की लंबी राम कहानी जो आपकी सेवा में हमने प्रस्तुत की है। आशा करते हैं कि हमारा प्रयास आपको पसंद आया होगा कृपया हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब करें हमारी पोस्ट को अपने मित्रों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करें अपनी राय हमें कमेंट के जरिए दें हमारी वेबसाइट पर विजिट करने के लिए धन्यवाद। अगर आप हमसे कुछ और पूछना चाहते हैं या हमसे संपर्क करना चाहते हैं तो हमारी पोस्ट पर कमेंट करके या हमारी वेबसाइट के होम पेज पर मौजूद कांटेक्ट फार्म का इस्तेमाल करके हमसे संपर्क कर सकते हैं अगर आप हमसे संपर्क करेंगे तो हमें बहुत प्रसन्नता होगी नमस्कार धन्यवाद आपका दिन शुभ हो

how to protect your router from hackers, how to keep your home wifi safe from hackers, home network security devices, how to protect your wifi from hackers, securing wireless networks, how to protect wifi from neighbors, is wireless secure, What is the difference between WIFI and wireless Internet access,Which WIFI is better wired or wireless, how to secure my wifi router at home, What is the difference between wired and wireless WIFI, How can solve that when I connect wireless device with wifi than ask obtain ip

 

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें

Please Donot spam