google-site-verification: googlefcc831f3afff5489.html google-site-verification=XK9IDkjU7jjUURp5A425iStvbYoDk39UO0ryXDjSqWw google-site-verification: googlefcc831f3afff5489.html रैंसमवेयर से अपने पीसी को कैसे बचाएंHow to Protect PC from Ransomware ~ Blog on Computer, Blogging, Mobile Phones,Technology Network security tips banking Frauds, Malware,

रैंसमवेयर से अपने पीसी को कैसे बचाएंHow to Protect PC from Ransomware

रेनसनवेअर(Ransomware) क्या है, यह कितना खतरनाक है, यह कैसे काम करता है, इससे कैसे बचा जा सकता है वान्नाक्राई(Wannacry) के बारे में जानिए, नोमोररेनसम nomoreransom.org और आईडी रेनसवेअरID Ransomware से सहायता कैसे प्राप्त करें ?

रैंसमवेयर एक बहुत ही हानिकारक मैलवेयर है दूसरे शब्दों में कहें तो यह एक ऐसा मैलवेयर है जिसमें मानवता के बारे में सब कुछ बुरा ही बुरा है ऐसा लगता है कि इस मैलवेयर में पूरी दुनिया की घोर दुर्भावना(Maliciousness), लालच, नाकारापन और अक्षमता इकट्ठा करके शामिल कर दिए गए हैं यह आपकी फ़ाइलों को एन्क्रिप्ट कर देता है और उन को डिक्रिप्ट करने के लिए एक कुंजी(Software Key) की आवश्यकता बताता है। इस कुंजी(Software Key) के लिए भुगतान की मांग करता है और अधिकांश मामलों में यह कुंजी शायद काम भी नहीं करती है। लेकिन यदि आप सही और समय बद्ध बैकअप रणनीति अपनाते हैं तो, आपकी फाइलें रैंसमवेयर(Ransomware) संक्रमण से पूर्णतया सुरक्षित रह सकती हैं।

रेनसमवेयर यानी विश्व का सबसे खतरनाक मैलवेयर

हमारा विचार यह है कि फिरौती का भुगतान करके की(Key) प्राप्त करनी चाहिए या नहीं, अगर हमने फिरौती का भुगतान करके की(Key) प्राप्त कर भी ली तो वह काम करेगी भी या नहीं, फिरौती का भुगतान कितना करना होगा कैसे करना होगा आदि विषयों पर बहस अथवा विचार-विमर्श से दूर रहते हुए इस बात पर विचार करें कि क्यों ना हम कुछ ऐसा करें कि हमारे पीसी पर रेनसमवेयर अटैक की समस्या ही नहीं आए और दुर्भाग्य से अगर हमारे पीसी पर रैंसमवेयर वेयर अटैक हो भी जाए तो हमें उससे हुए नुकसान की कोई चिंता की जरूरत ही ना हो

 

YOU MAY LIKE TO READ ON - HTML Basics-Important Tags,Attributes and usage Made Simple


रैंसमवेयर के बारे में आपको क्या जानना जरूरी है?

रैंसमवेयर एक प्रकार का मैलवेयर है जो आप के पीसी को लॉक  कर देता है, फाइलों को इंक्रिप्ट कर देता है लॉक और इंक्रिप्ट करने के बाद अनलॉक तथा डिक्रिप्ट करने के लिए फिरौती मांगता है यह फिरौती आमतौर पर क्रिप्टोकुरेंसी(Cryptocurrency) के रूप में मांगी जाती है रैंसमवेयर आमतौर पर कॉर्पोरेट, उद्यम(Enterprise), और सरकारी संस्थाओं(Ggovernment entities) को टारगेट करता है, लेकिन यह साइबर अपराधी सामान्य व्यक्तियों पर हमला करने से भी कोई परहेज नहीं करते

रेनसमवेयर सॉफ्टवेयर के निर्माता बहुत ही चतुर होते हैं इस कारण रेनसमवेयर के आने वाले नए वेरिएंट पुराने वैरीअंट से अधिक परिष्कृत होते है। ज्यादातर अपराधियों द्वारा प्रत्येक हमले को एक लेनदेन(Transaction) के रूप में देखा जाता है, कुछ रैंसमवेयर लेखकों द्वारा पीड़ितों के साथ पंगा लेने के मामले भी सामने आए हैं पिछले साल, ZENIS, रैंसमवेयर के मामले में सामने आया कि यह जानबूझकर बैकअप हटाता है और हाल ही में, जर्मनवाइपर(GermanWiper), के हमले में पता चला कि यह आपकी फ़ाइलों को एन्क्रिप्ट नहीं करता है बल्कि उन्हें डिलीट कर देता है और फिर भी फिरौती मांगता है। आप जरा उन असहाय पीड़ितों की दशा के बारे में सोचिए जो साइबर अपराधियों को फिरौती का भुगतान कर देते हैं फिर भी उनकी फाइलें वापिस नहीं मिल सकती क्योंकि फाइलें तो साइबर अपराधियों द्वारा पहले ही इंक्रिप्ट करने के स्थान पर डिलीट कर दी गई है 

 

YOU MAY LIKE TO READ ON - HTML Basics-General HTML Attributes and Attributes usedwith Body Tag


पहले से कहीं ज्यादा अटैक वैक्टर हैंThere are more attack vectors than ever

साइबर सुरक्षा विशेषज्ञों की राय है कि,रैंसमवेयर को प्रसारित करने के लिए आजकल कई तरह के मैकेनिज्म(Mechanisms) इस्तेमाल किए जा रहे हैं जिस कारण यूजर्स के लिए अपने आप को सुरक्षित रखना दिन--दिन मुश्किल होता जा रहा है परंपरागत रूप से, रैंसमवेयर ईमेल अभियानों के माध्यम से वितरित किया जाता था ईमेल के अंदर एक दुर्भावनापूर्ण लिंक(Malicious link) होती थी तथा यूजर को किसी उपयोगी सॉफ्टवेयर लिंक के बहाने या किसी अन्य तरह की सोशल इंजीनियरिंग से ललचाया जाता था भोले भाले यूजर साइबर अपराधियों के झांसे में जाते थे और उस लिंक पर क्लिक कर देते थे जैसे ही यूजर उस लिंक पर क्लिक करते थे रेनसमवेयर उनके कंप्यूटर में डाउनलोड हो जाता था लेकिन आजकल साइबर अपराधी रैंसमवेयर को वितरित करने के लिए तेजी से कई तरह के गैर पारंपरिक तरीकों का इस्तेमाल कर रहे है अपराधी अब इसे एप्स और आवरण रहित(Unvetted) सॉफ्टवेयर के भेष में भेजते हैं या, वे इसे स्पीयर-फ़िशिंग(Spear-phishing) हमलों के माध्यम से भी संचारित करते हैं, जिसमें वे एक संगठन के भीतर व्यक्तियों को टारगेट करते हैं जिनके द्वारा संदिग्ध लिंक पर क्लिक किए जाने की अधिक संभावना होती हैं। असल में यह एक जंगल की तरह है !

 

YOU MAY LIKE TO READ ON - HTML Basics – A list of important HTML Tags-


रैंसमवेयर से अपने बैकअप को कैसे बचाएंHow to Protect Your Backups From Ransomware

यदि आपका सिस्टम रैंसमवेयर से संक्रमित है, और आप की फाइलें इंक्रिप्ट कर दी गई है या डिलीट कर दी गई है तो आपके पास दो विकल्प उपलब्ध होते है पहला उपाय आप फिरौती का भुगतान कर सकते हैं और अपनी फाइलें वापस प्राप्त करने की आशा कर सकते हैं हो सकता है कि भुगतान करने के बाद भी आपको अपनी फाइलें वापस नहीं मिले क्योंकि ऐसा देखा गया है कि लोगों ने फिरौती का भुगतान कर दिया इसके बावजूद उनको अपनी फाइलें वापस नहीं मिली। या दूसरा तरीका है कि आपको भुगतान करने की कोई जरूरत नहीं है और आप अपने बैकअप से फाइलें री स्टोर कर लेते हैं पहला विकल्प अनैतिक, अतार्किक, खर्चीला और साजो-सामान जैसे कई कारणों से अव्यावहारिक माना जा सकता है इसलिए, मुझे विश्वास है कि आप दूसरा तरीका ही चुनेंगे तथा दूसरे तरीके के लिए आपको अभी से कदम उठाने पड़ेंगे ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि आप रैंसमवेयर हमले के दर्द से आसानी से उबर सकते हैं।

 

YOU MAY LIKE TO READ ON - Format and Syntax of HTML Tags and Important points aboutHTML Tags


बैकअप के लिए आप इन तीन मार्गदर्शक सिद्धांतों का अनुसरण करते हुए शुरू कर सकते हैं:-

 

(1). अगर रैंसमवेयर आपके पीसी से किसी भी चीज़ को एन्क्रिप्ट या डिलीट कर देता है

यदि आप समय-समय पर बैकअप लेते रहते हैं लेकिन आप ऐसी ड्राइव पर बैकअप सेव करते हैं जो या तो आपके कंप्यूटर के अंदर है या हमेशा आपके कंप्यूटर से जुड़ी रहती है अगर आपके पास ऐसा बैकअप है तो वह महत्वहीन है क्योंकि यह सब तो मालवेयर रेनसमवेयर के अटैक से प्रभावित रहेंगी इस तरह के बैकअप तो पुराने जमाने के सिस्टम में काम आते थे आप इन्हें पारंपरिक बैकअप मेथड भी कह सकते हैं। पारंपरिक खतरों के लिए इस तरह के बैकअप ठीक है, लेकिन यह आपके डेटा सुरक्षा के लिए आपकी एकमात्र रक्षा लाइन(Line of defence) नहीं होनी चाहिए।

(2). नेटवर्क से अपना बैकअप डिस्कनेक्ट करके रखें।

रैंसमवेयर के खिलाफ सबसे शक्तिशाली और ठोस हथियार एक बैकअप मीडिया का उपयोग करना ही है लेकिन सबसे आवश्यक यह है कि यह बैकअप एयर गैप पर होना चाहिए, जिसका अर्थ है कि यह आपके कंप्यूटर और इंटरनेट से जुड़ा हुआ कतई नहीं होना चाहिए तथा यह बैकअप मीडिया आपके कंप्यूटर से दूर सुरक्षित जगह पर रखा हुआ होना चाहिए उदाहरण के लिए, यदि आप किसी बाहरी हार्ड ड्राइव(External hard drive) पर बैकअप लेते हैं, तो केवल नियमित रूप से शेड्यूल किए गए बैक अप के दौरान इसे कनेक्ट करें, और फिर तुरंत इसे डिस्कनेक्ट कर दे। साइबर सिक्योरिटी विशेषज्ञों की राय है कि, "यह महत्वपूर्ण है कि स्थानीय ब्रेकअप स्टोरेज ड्राइव(Local backup storage drive) को नेटवर्क से जुड़ा नहीं रखा जाए " यदि रैंसमवेयर एग्जीक्यूटेबल लोड हो जाते हैं तो यह रैंसमवेयर द्वारा बैकअप को एन्क्रिप्टेड किए जाने से रोकेगा क्योंकि एग्जीक्यूटेबल केवल नेटवर्क पर लोड किया जाता है, और स्टोरेज डिवाइस एन्क्रिप्शन प्रक्रिया के बाहर ऑफ़लाइन रहती है यदि ड्राइव संलग्न रहती है, तो रैंसमवेयर के पास अब इन बैकअप तक भी पहुंच हो सकती है जो उन्हें बेकार कर देगी, क्योंकि वे अन्य फ़ाइलों के साथ एन्क्रिप्टेड हो जाएंगी। यद्यपि यह असुविधाजनक हो सकता है, और यह मैन्युअल रूप से ड्राइव को कनेक्ट करने और बैकअप को ट्रिगर करने के लिए बार-बार समय लेता है। लेकिन यह एक विशेष रूप से सुरक्षित रणनीति है

 

YOU MAY LIKE TO READ ON - How to set a username and master Password in MozillaFirefox


 

(3). वर्जनिंग पर भरोसा करेंRely on versioning

यहां तक कि अगर आप अपने बाहरी ड्राइव डिस्कनेक्ट करते हैं, तो भी कोई गारंटी नहीं है कि यह सुरक्षित रहेगा। इसका कारण यह है कि जब आप बैकअप चलाते हैं तो हो सकता है कि आपका सिस्टम पहले से ही मैलवेयर से संक्रमित हो चुका हो। इस स्थिति में यह आपके पुराने बैकअप को भी खराब कर देगा साइबर सुरक्षा विशेषज्ञों की राय है कि रैनसमवेयर हमले से रिकवरी सुनिश्चित करने के लिए वर्जनिंग(Versioning) एक अहम रणनीति है आप ऐसे बैकअप टूल का उपयोग करें जो आपकी फ़ाइलों के अलग-अलग टाइम स्टैंप के साथ कई संस्करण(Version) बनाता हो फिर, जब आप अपने कंप्यूटर को रिस्टोर करते हैं, तो आपके पास काफी विकल्प उपलब्ध होंगे।

(4). एक व्यावहारिक बैकअप रणनीति लागू करेंImplement a Practical Backup Strategy

जाहिर है कि, आम बैकअप समाधान जो आप एक रैंसमवेयर हमले से बचाने के लिए कर रहे हैं पर्याप्त और मजबूत नहीं है क्लाउड स्टोरेज और क्लाउड बैकअप में फर्क है और इसके परिणामस्वरूप, आपके डेटा को सिंक या मिरर करने वाली कोई भी चीज जस्ट टोस्ट है। यदि आप किसी भी फ़ाइल को पुनः प्राप्त करना चाहते हैं, तो आप (उदाहरण के लिए) ड्रॉपबॉक्स, वनड्राइव या Google ड्राइव के मुफ्त संस्करणों पर भरोसा नहीं कर सकते हैं।

 

YOU MAY LIKE TO READ ON - उपयोगी नेटवर्किंग कमांड   यू आर एल Useful Networking Commands & URLs


लेकिन अगर आप भंडारण के लिए भुगतान करते हैं, तो कहानी थोड़ी अलग हो सकती है। ड्रॉपबॉक्स पेड टियर(Paid Tier) में ड्रॉपबॉक्स रिवाइंड फीचर शामिल है। ड्रॉपबॉक्स प्लस (स्टोरेज 2 टीबी) आपको अपनी फाइलों का 30 दिन का इतिहास(History of 30 days) देता है, जिसे आप किसी भी समय वापस रोल कर सकते हैं। ड्रॉपबॉक्स प्रोफेशनल (3 टीबी) में 180 दिन की हिस्ट्री उपलब्ध होती है।

 

(5). वनड्राइव का अपना रैंसमवेयर प्रोटेक्शन हैOneDrive has its own ransomware protection

1.     यदि OneDrive को किसी संभावित रैंसमवेयर गतिविधि का पता लगाता है, तो यह आपको सूचित करता है और आपको यह सत्यापित करने के लिए कहता है कि क्या आपने अपनी फ़ाइलों में हालिया परिवर्तन किए हैं। यदि नहीं, तो Microsoft आपको अपनी हार्ड ड्राइव को साफ करने और क्षतिग्रस्त फ़ाइलों को बहाल करने में मदद करने का प्रयास करता है।

2.     क्योंकि Google ड्राइव और आईक्लाउड में ऐसी कोई अंतर्निहित सुरक्षा नहीं है, इसलिए हम आपको उन पर भरोसा करने की सलाह नहीं देते हैं जबकि रैंसमवेयर इतना गंभीर जोखिम बना हुआ है।

3.     इसके अलावा, अधिकांश ऑनलाइन बैकअप समाधान(backup solutions) संस्करण(Versioning) को लागू करते हैं, इसलिए एक्रोनिस, कार्बोनाइट और आईड्राइव जैसी सेवाओं के साथ, आप संक्रमित होने से पहले के अपनी हार्ड ड्राइव के स्नैपशॉट पर वापस रोल कर सकते हैं।

 

YOU MAY LIKE TO READ ON - इनकॉग्निटो मोड और वीपीएन में क्या फर्क हैWhat’s the Difference Between Incognito Mode and VPN

 

4.     एक रिपोर्ट के अनुसार कार्बोनाइट ने अपने कस्टमर केयर पर प्राप्त सपोर्ट रिक्वेस्ट वाले 12600 से अधिक ग्राहकों को सफलतापूर्वक रैनसमवेयर अटैक से बचाया है।

5.     एक्रोनिस की शर्तों के अनुसार "जब सक्रिय संरक्षण(Active Protection) को किसी प्रकार की कुछ गड़बड़ का पता लगाता है, जैसे कि एक प्रक्रिया(Process) जैसी कोई चीज जो फाइलों के नाम बदल रही है और फिर फाइलों का एक गुच्छा(Bunch) एन्क्रिप्ट कर रही है, तो यह ऐसी किसी भी प्रक्रिया को तुरंत मार(Kills) देती है

6.     जिस तरह अपोलो अंतरिक्ष यान में दो स्वतंत्र मार्गदर्शन कंप्यूटर(Guidance computers) थे, हम अनुशंसा करते हैं कि आपके पास भी आपके डेटा का बैकअप लेने के कम से कम दो तरीके हों। आप एक सरल, आसानी से उपयोग करने योग्य सिंक-आधारित समाधान(Sync-based solution) को एक मजबूत के साथ जोड़ सकते हैं जिसे आप रैंसमवेयर हमले से ठीक कर सकते हैं।

7.     उदाहरण के लिए, आप ड्रॉपबॉक्स या वनड्राइव जैसे पारंपरिक क्लाउड बैकअप समाधान का उपयोग कर सकते हैं यह सुनिश्चित करने के लिए कि आपकी फ़ाइलें हमेशा उपलब्ध हों यदि आप किसी अन्य पीसी से लॉग इन करते हैं तब भी यदि आपके पास सदस्यता है और बिल्ट-इन रैंसमवेयर सुरक्षा का लाभ उठा सकते हैं, तो यह और भी बेहतर है!

 

YOU MAY LIKE TO READ ON - Is there a Virus in your PC how to check and removeक्या आपके कंप्यूटर में वायरस है? कैसे पता करें कैसे हटाए

 

8.     साथ ही, संस्करण(Versioning) के साथ एक सुरक्षित बैकअप समाधान लागू करें। आप एक स्थानीय बैकअप ऐप का उपयोग कर सकते हैं जो बाहरी ड्राइव(Eexternal drive) पर सेव किया गया हो आप चाहे तो ऑनलाइन बैकअप सेवा का भी इस्तेमाल कर सकते हैं जो आपकी फ़ाइलों को क्लाउड में संग्रहित करता है। यद्यपि जब आप इस प्रकार के बैकअप का उपयोग करते हैं तो आपकी फ़ाइलों को प्राप्त करना थोड़ा कठिन हो सकता है, लेकिन वे रैंसमवेयर हमले से सुरक्षा में अधिक कारगर साबित हो सकती है।

 

रैंसमवेयर संक्रमण से कैसे बचेंHow to Avoid Ransomware Infection

 

रैंसमवेयर हालांकि वर्तमान में सबसे खतरनाक और सबसे चिंताजनक प्रकार के इंटरनेट खतरों में से एक है रैंसमवेयर अन्य ऑनलाइन खतरों से एक अलग प्रकार का मैलवेयर है जिसके बारे में आपको पता होना बहुत जरूरी है ताकि आप इसके खतरों से निपटने के लिए हरदम तैयार रह सके

एक बार जब आपके पास एक सुरक्षित, बहुस्तरीय बैकअप समाधान(Multitiered backup solution) हो जाता है, तो रैंसमवेयर के खतरों को को कम करने के लिए इन सामान्य  नियमों का पालन कर सकते हैं:-

रैनसमवेयर सुरक्षा के लिए हमेशा एक मजबूत एंटीवायरस सॉफ्टवेयर का उपयोग करें। यद्यपि, ऐसा कोई एंटीवायरस ऐप नहीं है जो 100% गारंटी वाला हो, लेकिन कोई भी ऑनलाइन सुरक्षा रणनीति जिसमें एक अच्छा एंटीवायरस सॉफ्टवेयर शामिल नहीं है, सिद्धांत रूप से ही अधूरी है। विंडोज 10 यूजर्स के लिए माइक्रोसॉफ्ट का इनबिल्ट एंटीवायरस विंडोज डिफेंडर सर्वश्रेष्ठ माना गया है लेकिन आप चाहे तो आप जिस पर सबसे ज्यादा विश्वास करते हैं उस एंटीवायरस सॉफ्टवेयर का उपयोग कर सकते हैं

 

YOU MAY LIKE TO READ ON - How to use quora to promote blog Quora पर ब्लॉग कैसे प्रोमोट करें


·        ऑनलाइन काम करते समय बहुत सावधान रहने की जरूरत है आप किसी भी लिंक अथवा अन्य चीज पर कभी क्लिक ना करें जिस पर आपको 100% विश्वसनीय होने का भरोसा नहीं हो वेबसाइटों पर, ईमेल या टेक्स्ट संदेशों में, या अन्य प्रकार की किसी लिंक पर कभी क्लिक करें।

·        पायरेटेड सॉफ्टवेयर का कभी भी उपयोग करें तथा अवैध वेबसाइटों पर कभी भी जाएं।

·        कोई भी एप्स डाउनलोड करते समय विशेष सावधानी बरतें ऐप डाउनलोड करने के लिए गूगल प्ले और ऐप्पल ऐप स्टोर को सुरक्षित माना जाता है लेकिन आजकल गूगल प्ले स्टोर पर भी कई ऐप्स में मैलवेयर होने की खबरें मिल रही है।

·        अपने कंप्यूटर को लेटेस्ट सिस्टम अपडेट से लैस रखें। कुछ लोग डिस्क स्पेस बचाने के लिए या अन्य किसी भी कारण से ऑटोमेटिक अपडेट डिसएबल कर देते हैं कृपया ध्यान दें कि ऑटोमेटिक अपडेट्स बहुत उपयोगी होते हैं बहुत से अपडेट्स में सेवा प्रदाता आपको सुरक्षा पैच ही देते हैं अतः अपने सिस्टम में ऑटोमेटिक अपडेट हमेशा इनेबल रखें।

 

YOU MAY LIKE TO READ ON - browser extensions can see collect bank details कितने खतरनाक है ब्राउजर एक्सटेंशन


क्या करें अगर रेन संवर हमले के शिकार हो गएWhat to if You Got Hit by ransomware Attack

 

अंत में, इस विषय पर विचार विमर्श करते हैं कि यदि आप दुर्भाग्य से कभी भी रैंसमवेयर से संक्रमित हो गए तो क्या करें(What to do if you are a victim of a Ransomware attack) ऐसी स्थिति में आपको साहस कभी नहीं खोना है रैंसमवेयर अटैक्ड का मतलब यह कतई नहीं है कि सब कुछ समाप्त हो गया है यहां हम आपको दो ऐसे मुफ्त उपकरण(Free Tools) बता रहे हैं जिनका उपयोग आप फिरौती में एक भी पैसा खर्च किए बिना अपनी फ़ाइलों को डिक्रिप्ट करने के लिए कर सकते हैं:-

 

(a). "नो मोर रेनसम" से सहायता प्राप्त करेंGet help from "No More Ransom": 

 

यह McAfee और कुछ यूरोपीय देशों की कानून प्रवर्तन एजेंसियों(Law enforcement agencies) द्वारा चलाई जा रही एक संयुक्त परियोजना है जिसमें अब तक 100 से अधिक कॉर्पोरेट और सरकारी भागीदार शामिल हो चुके है तथा www.nomoreransom.org नामक अपनी एक वेबसाइट भी जारी कर दी है यदि आपका सिस्टम संक्रमित है और आप की फाइलें इंक्रिप्ट हो गई है, तो आप नो मोर रेनसम साइटNo More Ransom वेबसाइट पर जा सकते हैं और अपने कंप्यूटर से कुछ नमूना एन्क्रिप्टेड फाइलें(Sample encrypted files) अपलोड कर सकते हैं। यदि आपकी,नमूना एन्क्रिप्टेड फाइलें(Sample encrypted files) क्रेक हो जाती है तो आप अपने पीसी को बिना एक भी पैसा खर्च किए अनलॉक कर सकते हैं।

 

YOU MAY LIKE TO READ ON - Google ड्राइव डॉक्यूमेंट रीडऑनली कैसे बनाएं How to Make Google Drive Docs Readonly

 

(b). आईडी रैंसमवेयरID Ransomware से सहायता प्राप्त करें

 

यह संस्था भी नो मोर रेनसमNo More Ransom के समान ही है यह साइबर सिक्योरिटी कंपनी एमसिसॉफ्ट(Emsisoft) का एक प्रोजेक्ट है यह प्रोजेक्ट पूर्णतया निशुल्क है तथा इनकी वेबसाइट id-ransomware.malwarehunterteam.com है यहां आप अपनी रिक्वेस्ट सबमिट कर सकते हैं तथा यहां से आपको एक आईडी मिल जाती है अगर फाइल वर्तमान में डिक्रिप्टेबल(Decryptable) नहीं है लेकिन बाद में डिक्रिप्टेबल(Decryptable) हो गई तो भी आपको सूचना मिलेगी

यह थी दुनिया के सबसे हानिकारक माने जाने वाले मेलवेयर रेनसमवेयर के बारे में पूरी राम कहानी यानी विस्तृत जानकारी जो हमने आपकी सेवा में प्रस्तुत की है फिर भी अगर आप कोई और जानकारी चाहते हैं या आपकी कोई शंका है जिसका समाधान चाहते हैं तो आप हम से संपर्क भी कर सकते हैं ।कृपया किसी भी विषय में हम से संपर्क करने में कोई संकोच न करें। 

 

YOU MAY LIKE TO READ ON - Brief history of mobile malware मोबाइल मैलवेयर का संक्षिप्त इतिहास


आशा करते हैं कि हमारा प्रयास आपको पसंद आया होगा ।कृपया हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब करें हमारी पोस्ट को अपने मित्रों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करें अपनी राय हमें कमेंट के जरिए दें हमारी वेबसाइट पर विजिट करने के लिए धन्यवाद। अगर आप हमसे कुछ और पूछना चाहते हैं या हमसे संपर्क करना चाहते हैं तो हमारी पोस्ट पर कमेंट करके या हमारी वेबसाइट के होम पेज पर मौजूद कांटेक्ट फार्म का इस्तेमाल करके हमसे संपर्क कर सकते हैं अगर आप हमसे संपर्क करेंगे तो हमें बहुत प्रसन्नता होगी नमस्कार धन्यवाद आपका दिन शुभ हो

WannaCry ransomware, ransomware meaning in hindi, ransomware removal, ransomware decryptor, ransomware examples, ransomware protection,   types of ransomware, ransomware attack,  No More Ransom, nomoreransom.org, रैंसमवेयरID Ransomware, id-ransomware.malwarehunterteam.com

 

2 टिप्‍पणियां:

Please Donot spam