Mobile Radiation Side Effects, how dangerous mobile radiation mobile a silent killer


डॉयल करें यह कोड और जानें कितना खतरनाक है आपका स्मार्टफोन

हेलो दोस्तों आज के इस लेख और एम्बेडेड वीडियो में हम इस विषय पर बात करेंगे कि आपका स्मार्टफोन कितना रेडिएशन छोड़ रहा है एस आर क्या है और अंतरराष्ट्रीय स्टैंडर्ड के मुताबिक एस आर कितनी होनी चाहिए क्या आपने कभी सोचा है कि हर वक्त आपसे चिपककर रहने वाला आपका मोबाइल हैंडसेट कहीं आपके लिए साइलेंट किलर तो नहीं बन रहा है क्योंकि चाइनीज समेत कई नामी ब्रांड के ऐसे मोबाइल बाजार में उपलब्ध हैं जिनसे निकलने वाला रेडिएशन मानक से कहीं ज्यादा है।

Mobile phone SAR
how dangerous mobile radiation

यह एस ए आर क्या बला है 

बहुत से दोस्त सोच रहे होंगे कि यह एस ए आर(Specific Absorption Rate) कौन सी बला है इसके बारे में तो हमने कभी सोचा ही नहीं दोस्तों सबसे पहले तो हमें यह जानना जरूरी है कि यह एस आर क्या है तो दोस्तों एस ए आर यह नापने का एक मानक है कि किसी इंसान के रेडियो फ्रिकवेंसी के संपर्क में आने पर उसका शरीर उसमें से कितना रेडिएशन सोख लेता है या अवशोषित करता है उदाहरण के लिए हमारे स्मार्टफोन से जो रेडियो फ्रिकवेंसी हवा में तैरती है वह कितनी है और हमारा शरीर उसने से कितना सोख लेता है यह प्रति किलो वाट/किलोग्राम की यूनिट अथवा इकाइयों में नापा जाता है । विशिष्ट अवशोषण दर (एसएआर) एक रेडियो आवृत्ति (आरएफ) विद्युत चुम्बकीय क्षेत्र के संपर्क में होने पर मानव शरीर द्वारा ऊर्जा को अवशोषित करने की दर नापने की एक इकाई है। यह अल्ट्रासाउंड समेत ऊतक द्वारा ऊर्जा के अन्य रूपों के अवशोषण को भी संदर्भित कर सकता है।

आप चाहें तो जानने के लिए यह वीडियो देखें। Watch this small video to learn more on the subject
 



कितना होना चाहिए मानक एस ए आर

इंटरनेशनल एवं नेशनल मानक के मुताबिक मोबाइल फोन का रेडिएशन लेवल 1.6 वाट/किलो से अधिक नहीं होना चाहिए। परन्तु इस अंधी दौड़ में तमाम मोबाइल कंपनियां मानक की अनदेखी कर रही हैं। सेल्युलर टेलीकम्यूनिकेशन एंड इंटरनेट एसोसिएशन के अनुसार सभी मोबाइल हैंडसेट पर रेडिएशन संबंधी जानकारी देनी जरूरी है। मगर तमाम कंपनियां इसे नजरअंदाज कर रही हैं।

क्या इससे बचने का भी कोई उपाय है

जी हां दोस्तों इससे पूरी तरह से बचना तो आज के जमाने में असंभव लगता है परंतु इसे कुछ हद तक कम जरूर किया जा सकता है रेडिएशन के प्रभाव को कम करने के लिए आप यह टिप अपना सकते हैं –

1. आप पहला काम तो यह करें कि जब भी मोबाइल फोन पर बात करें अपने मोबाइल फोन को कान से जितना हो सके दूर रखें दोस्तों अगर हम स्मार्टफोन को अपने कान से या शरीर से डेड इंच दूर रखें तो इससे रेडिएशन का प्रभाव 90% से अधिक कम हो जाता है

2.  दूसरा काम यह करें कि अपने स्मार्टफोन को हमेशा दाहिनी जेब में रखें क्योंकि बाई तरफ हमारा heart होता है और दाहिनी जेब में रखने से स्मार्टफोन heart से थोड़ा दूर रहेगा और दिल रेडिएशन से कम प्रभावित होगा

3.  तीसरा काम यह करें कि जब आप फोन पर बात करें तो स्मार्टफोन हमेशा दाहिने हाथ में रखे और दाहिने कान से सुने क्योंकि मस्तिष्क का बड़ा और महत्वपूर्ण हिस्सा बाई तरफ होता है

कैसे पता लगाए हमारा फोन कितना रेडिएशन जनरेट कर रहा है

तो दोस्तों अपने फोन का वास्तविक रेडिएशन पता करने के लिए आपको अपने फोन पर एक कोड जिसे एम एम आई MMI OR USSD code भी कहते हैं डायल करना पड़ेगा यह कोड है *#07# इस कोड को उसी तरह डायल करें जिस तरह आप अपने फोन में किसी मित्र का नंबर डायल करते हैं या किसी  इंक्वायरी के लिए यूएसएसडी कोड डायल करते हैं इसे डायल करने से आपके फोन के स्क्रीन पर आपके हैंडसेट की रेडिएशन संबंधी पूरी कुंडली खुल जाएगी



 





 
विशेष निवेदन - हमारा प्रयास कैसा रहा इस विषय में कृपया कमेंट करे। विपरीत राय देने में कतई संकोच करें अपनी राय निष्पक्ष दे। कृपया हमारे ब्लॉग के सदस्य बने तथा हमारा फेसबुक पेज लाइक करें। हमारे यूट्यूब चैनल स्टार्ट विथ विकिग्रीन को सब्सक्राइब करें।Please subscribe our youtube channel “Start With Wikigreen”
 






0 टिप्पणियाँ: