Loading...

10 killer safety tips for Internet Banking Explained effective in all banks Netbanking service Online transaction


नेट बैंकिंग से ही करते हैं सारे काम, तो ये 10 टिप् नहीं होने देंगे आपका नुकसान
अगर नेट बैंकिंग का इस्तेमाल करते हैं, तो आप सार्वजनिक क्षेत्र या निजी चाहे किभी भी बैंक के कस्टमर हों अपने ऑनलाइन credencials के बारे में अति सतर्क रहें व पासवर्ड को नियमित रूप से बदलते रहें तथा पासवर्ड किसी के साथ कभी शेयर न करें और पासवर्ड को कभी भी ऑनलाइन सेव न करें बल्कि ऑफलाइन सहेज कर रखें। सुरक्षित नेट बैकिंग के लिए निम्न टिप्स को भी फॉलो करें, ताकि साइबर अपराधियों से बचे रहें – 
10 killer safety tips for Internet Banking Explained effective in all banks Netbanking service Online transaction
10 killer safety tips for Internet Banking Explained


1 - नेट बैंकिंग का उपयोग इंटरनेट कैफे आदि जैसे किसी सार्वजनिक कंप्यूटर पर न करें। अगर किसी इमरजेंसी में करते भी हैं, तो कंप्यूटर छोड़ते समय कैशे क्लियर करना, टेंपरेरी फाइल डिलीट करना और ब्राउजिंग हिस्ट्री डिलीट करना न भूलें। इसके अलावा, लॉगइन के दौरान किसी भी ब्राउजर में रिमेंबर आइडी या रिमेंबर पासवर्ड पर क्लिक भूलकर भी न करें। इसके अलावा साइट पर पासवर्ड सिर्फ वर्चुअल(ऑनस्क्रीन) की बोर्ड से ही लगाएं, इससे आप कीलोग्गर्स से बचे रहेंगे और पासवर्ड चोरी की संभावना बहुत कम रहेगी।

इसी विषय पर देखिये यह वीडियो।  





2 - अगर आपको बैंक की तरफ से ऐसा कोई फोन या ईमेल मिले जिसमें आपके खाते की जानकारी, ID, पासवर्ड आदि लॉगइन डीटेल की जानकारी मांगे तो कभी भी लॉगइन डीटेल की जानकारी ना दें।बैंक कभी भी आपके एटीएम पिन, खाते की जानकारी पासवर्ड आदि लॉगइन डीटेल जन्मतिथि जैसी गोपनीय और निजी जानकारी के बारे में फोन या ईमेल के जरिए नहीं पूछते हैं। इस संबंध में लगातार बैंक एसएमएस अलर्ट भी भेजता है। 

3 - अपनी लॉगइन आइडी और पासवर्ड का इस्तेमाल बैंक के आधिकारिक लॉगइन पेज (अधिकृत वेबसाइट)  पर ही करें। यह एक सुरक्षित वेबसाइट होती है। ध्यान रखें कि नेट बैकिंग सेवा देने वाली वेबसाइट्स के यूआरएल की शुरुआत https:// से होती है। यूआरएल की शुरुआत में ताले का निशान होता है और यूआरएल बॉक्स ग्रीन होता है। यह उसकी सुरक्षा की निशानी है।

4 - अपने कंप्यूटर में हमेशा लाइसेंस वाले ऑटो अपडेटिंग एंटी वायरस सॉफ्टवेयर इनस्टॉल  करें। वर्ना वायरस आपके सिस्टम पर मौजूद महत्वपूर्ण जानकारियां या वेब डाटा चुरा सकते हैं। अगर आपके कंप्यूटर में विंडोज का नया वर्शन है तो "विंडोज डिफेंडर" पर्याप्त है।
 
5 - इंटरनेट बैंकिंग के सुरक्षित इस्तेमाल के लिए जरूरी है कि ब्राउजर के एड्रेस बार में जाकर अपने बैंक का यूआरएल टाइप करें।
 
6 - कभी भी ईमेल में भेजे गए लिंक पर क्लिक करें। अगर आप ऐसी किसी फर्जी वेबसाइट पर एक बार लॉगइन कर जानकारी डाल देंगे, तो फ्रॉड करने वाले यानि साइबर क्रिमिनल्स आपका एकाउंट एक्सेस कर उससे पैसे चुरा सकते हैं।

7 - बहुत से लोग ऑनलाइन शॉपिंग करते समय बार-बार कार्ड नंबर एंटर करने की परेशानी से बचने के लिए अपना डेबिट/क्रेडिट कार्ड नंबर, एक्सपायरी डेट और CVV डाटा वगैरह उस साइट पर सेव कर लेते हैं। ऐसा कभी भी करें। अगर आप थोड़ी-सी परेशानी से बचने के लिए ऐसा करते हैं, तो इससे आपको बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है।

8 - आम तोर पर लोग गूगल प्ले से एप्प डाउनलोड करते हैं परन्तु मोबाइल एप्लिकेशन स्टोर (Google Playstore, Apple App Store, Blackberry App World, Ovi Store, Windows Marketplace आदि) किसी पर भी मालिशियस एप्लीकेशन हो सकता है अतः कृपया एप्लीकेशन को डाउनलोड करने से पहले अपने बैंक से संपर्क करके, की प्रामाणिकता की जांच करें।

9 - यह सुनिश्चित करने के लिए कि सिस्टम वायरस / ट्रोजन मुक्त है, अपने कंप्यूटर को एंटीवायरस के साथ नियमित रूप से स्कैन करें।

10 - कोई भी बैंक आपके अपने खाते में लॉग इन करने के बाद, आपको अपना यूजरनेम  और लॉगिन पासवर्ड फिर से प्रदान करने के लिए नहीं कहता । साथ ही, आपको इंटरनेट बैंकिंग का उपयोग करते समय अपना क्रेडिट या डेबिट कार्ड विवरण प्रदान करने के लिए भी नहीं कहा जाएगा। अगर आपको ऐसी जानकारी मांगने के लिए कोई संदेश (जैसे पॉप-अप आदि) मिलता है, तो कृपया कोई जानकारी प्रदान न करें इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि पेज 'वास्तविक' जैसा दिखाई देता है। इस तरह के पॉप-अप आने का सबसे बड़ा कारण यह हो सकता है कि आपका कंप्यूटर मालवेयर से संक्रमित हो। कृपया अपने डिवाइस को मॉलवेयर फ्री करने के लिए तत्काल आवश्यक कदम उठाएं।


 















विशेष निवेदन - हमारा प्रयास कैसा रहा इस विषय में कृपया कमेंट करे। विपरीत राय देने में कतई संकोच न करें अपनी राय निष्पक्ष दे। कृपया हमारे ब्लॉग के सदस्य बने तथा हमारा फेसबुक पेज लाइक करें। 
 

नई पोस्ट पुरानी पोस्ट

0 टिप्पणियाँ:

 
Toggle Footer
TOP