google-site-verification: googlefcc831f3afff5489.html google-site-verification=XK9IDkjU7jjUURp5A425iStvbYoDk39UO0ryXDjSqWw google-site-verification: googlefcc831f3afff5489.html computer issues-causes fix windows issues manually or with software ~ Computer, Blogging, Mobile Phones,Technology Networking, security tips, online Frauds, Malware

computer issues-causes fix windows issues manually or with software

 कंप्यूटर में आने वाली समस्याओं के प्रमुख कारणCauses of Computer issues

 कंप्यूटर मैं समस्याएं आमतौर पर अमान्य या करप्ट फ़ाइलों और सॉफ्टवेयर के कारण होते हैं जो विभिन्न एप्लीकेशंस द्वारा छोड़ दिए जाते हैं, गलत तरीके से लिखे गए एप्लिकेशन कोड या सॉफ्टवेयर इनकंपैटिबिलिटी या सॉफ़्टवेयर या सिस्टम की खराबी के कारण दिखाई देते हैं। जब भी किसी विंडोज अपडेट के इंस्टॉल होने के दौरान बीच में पावर फैलियर या किसी अन्य कारण से पीसी को बंद कर दिया जाता है, यानी एक एप्लीकेशन टास्क को बीच में ही रोक दिया जाता है या सिस्टम फाइल्स को हार्ड ड्राइव पर ले जाया जाता है, परिणामस्वरूप पीसी समस्याएँ सामने आ सकती हैं। कंप्यूटर की समस्याओं के अन्य सामान्य कारण वायरस या अन्य मैलवेयर गतिविधि, साथ ही साथ गलत सॉफ्टवेयर uninstalls, अनुभवहीन उपयोगकर्ताओं द्वारा मैन्युअल रूप से करप्ट फ़ाइलों और कई अन्य कारकों को संपादित करने का प्रयास भी हो सकता है।

computer issues-causesand fixes

समस्या ग्रस्त कंप्यूटर के प्रमुख लक्षण(Symptoms of compute with issues)

 पीसी समस्याओं के सबसे सामान्य लक्षण एप्लीकेशन या सिस्टम फ़्रीज होना (जब कोई एप्लिकेशन या पूरी प्रणाली माउस क्लिक या किसी अन्य उपयोगकर्ता की कार्रवाई के जवाब में कुछ समय के लिए प्रतिक्रिया करना बंद कर देती है, लेकिन बाद में सामान्य ऑपरेशन में वापस आ जाती है), एप्लिकेशन या सिस्टम क्रैश ( जब कोई एप्लिकेशन या पूरी प्रणाली उपयोगकर्ता की कार्रवाइयों का जवाब देना बंद कर देती है और कुछ भी इसे सामान्य ऑपरेशन में वापस नहीं ला सकता है, तो एप्लीकेशन को बंद करना  या पीसी रिबूट की आवश्यकता होती है), अचानक स्वेता कंप्यूटर रिबूट जो उपयोगकर्ता द्वारा शुरू नहीं किए जाते हैं, अन्य विभिन्न समस्याएं संदेश या बीएसओडी (" ब्लैक स्क्रीन ऑफ डेट, ब्लू स्क्रीन" या "स्टॉप" चेतावनी), साथ ही अलसी कनेक्टिविटी समस्याएं जो नेटवर्क सेटिंग्स को समायोजित करके तय नहीं की जा सकती हैं। सॉफ्टवेयर uninstalls या reinstalls की समस्याएं भी एक संकेत हो सकते हैं कि पीसी को मरम्मत की आवश्यकता है।

 Related - Computer Security Basics: Protect Yourself from Viruses,Hackers, Keyloggers and data Thieves

 Issue No-1- stability related issues (पहली समस्या- स्थिरता संबंधी समस्याएं)

अधिकांश बल्कि लगभग सभी कंप्यूटरों में निरंतर व लंबे समय तक उपयोग के परिणाम स्वरूप स्थिरता(stability) संबंधी समस्याएं दिखाई देनी शुरू हो जाती हैं, हालांकि कुछ हद तक स्थिरता(stability) संबंधी समस्याओं के कई अन्य कारण भी हो सकते हैं। यह समस्याएं कई कारणों से हो सकती हैं, जिनमें प्रोग्राम को ठीक से इंस्टॉल या अनइंस्टॉल नहीं करना, स्टार्टअप मैं बहुत से आइटम शामिल कर लेना, हार्डवेयर/मेमोरी की परफॉर्मेंस कम होना, सिस्टम में कोई वायरस/मैलवेयर आ जाना, सिस्टम कनफ्लिक्ट(system conflicts), तथा एक्टिव एक्स की समस्याएं(Active X issues) आदि शामिल हैं। इसके परिणाम स्वरूप प्रोग्राम धीरे स्टार्ट होना यानी प्रोग्राम लोड होने में सामान्य से अधिक समय लेकर धीरे-धीरे खुलना और विभिन्न कमांड पर प्रतिक्रिया देने में सिस्टम द्वारा अधिक समय लग सकता है। जब कई प्रोग्राम चल रहे होते हैं, तो आपके प्रोग्राम फ्रीज़ या क्रैश भी हो सकते हैं।

Related - How to See Most Recent Updates Installed Windows 10 history should I skip updates 

 आपके पीसी की समस्याओं का समाधान तथा मरम्मत के तरीके

 

बहुत अनुभवी सॉफ्टवेयर एवं पीसी की आंतरिक संरचना के जानकार यूज़र तो माइक्रोसॉफ्ट विंडोज 7, 8 या 10 किसी भी वर्शन मैनुअली संपादित करके करप्ट या अमान्य पाए जाने वाली प्रत्येक  कुंजी को हटाने के साथ-साथ अन्य पीसी बग फिक्स को लागू करने में सक्षम हो सकते हैं। किसी आईटी तकनीशियन की मदद भी ले सकते हैं जो ऐसे कामों को करने का एक्सपर्ट हो तथा पीसी क्रैशेज पावर सप्लाई संबंधी समस्याएं, डिफेक्टिव हार्डवेयर तथा उन सभी असामान्य स्थितियों को सुधार सकता हो जो समय समय पर समस्या उत्पन्न करती है। क्योंकि सिस्टम एलिमेंट्स में कोई भी त्रुटि कभी भी सिस्टम में समस्या उत्पन्न कर सकती है सिस्टम को अनबूट/ रिबूट कर सकती है । अगर आपके पास सहायता करने के लिए इस तरह का कोई विशेषज्ञ उपलब्ध ना हो और आपको इस विषय में पर्याप्त ज्ञान ना हो या अपने ज्ञान पर किसी तरह की शंका हो तो यह काम आप किसी सॉफ्टवेयर के मदद से भी कर सकते हैं जो सुरक्षित पीसी फिक्स प्रदान करता हो और सिस्टम को ठीक करने के लिए है किसी भी विशेष कौशल की आवश्यकता के बिना आपके कंप्यूटर की सभी समस्याओं का समाधान करता हो।

Related - How to Use One Drive personal vault Secure Your Files upto 1TB


इस काम के लिए मार्केट में सैकड़ों सॉफ्टवेयर उपलब्ध है विंडोज रिपेयर के लिए ऐसा ही एक सॉफ्टवेयर है आउटबाइट पीसी रिपेयर(Outbyte PC Repair) जोकि एक एपेस्टेम अप्रूव्ड एप्लीकेशन है और एक प्रमाणित एप की सभी आवश्यकताओं को पूरा करता है। जनवरी 2021 में रिव्यू के अनुसार आउटबाइट पूरी तरह से सुरक्षित एप माना गया है जो दुनिया भर में सभी उपयोगकर्ताओं के लिए अपनी वैधता और सुरक्षा को साबित करने के लिए एपेस्टेम प्रमाणन(AppEsteem Certification)  के साथ आता है।

Related - Telegram vs Signal App which is better which you should useand why

आउटबाइट पीसी रिपेयर(Outbyte PC Repair) से पीसी समस्याओं को ठीक करने का सुरक्षित तरीका:

चरण 1: रिपेयर एप्लीकेशन डाउनलोड करेंDownload Outbyte PC Repair tool

चरण 2: एप्लिकेशन इंस्टॉल करें और लॉन्च करेंInstall and launch the application

चरण 3: समस्याओं और असामान्यताओं का पता लगाने के लिए स्कैन नाउ बटन पर क्लिक करेंClick "Scan now" button to detect issues and abnormalities

चरण 4: समस्याओं को ठीक करने के लिए सभी रिपेयर करें बटन पर क्लिक करेंClick "Repair All" button to fix issues

Disclaimer: Outbyte PC Repair is not affiliated with Microsoft, nor claim direct affiliation. The information on this page is provided for informational purposes only. PC security and performance improvements will vary depending on the condition of your system, including many other factors outside of company control.

डिस्क्लेमर: आउटबाइट पीसी रिपेयर माइक्रोसॉफ्ट से संबद्ध नहीं है,  ही सीधे संबद्धता का दावा करता है। इस पृष्ठ पर जानकारी केवल सूचना के प्रयोजनों के लिए प्रदान की गई है। पीसी सुरक्षा और प्रदर्शन में सुधार आपके सिस्टम की स्थिति के आधार पर अलग-अलग होंगे, जिसमें कंपनी नियंत्रण के बाहर कई अन्य कारक शामिल हैं।

1 टिप्पणी:

Please Donot spam